पुलिस की गिरफ्त में हिस्ट्रीशीटर:शिवम हत्याकांड का मुख्य आरोपी चढ़ा संभल पुलिस के हत्थे, आगरा पुलिस को भनक तक नहीं

आगरा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
8 मई को हुए शिवम यादव हत्या के मामले में आलोक यादव मुख्य आरोपी है। - Dainik Bhaskar
8 मई को हुए शिवम यादव हत्या के मामले में आलोक यादव मुख्य आरोपी है।

उत्तर प्रदेश के आगरा में हुए शिवक हत्याकांड का मुख्य आरोपी संभल पुलिस के हत्थे चढ़ा। वह पिछले कई दिनों से फरार चल रहा था। खासबात यह है कि आगरा पुलिस को इसकी सूचना तक नहीं। पुलिस का कहना है कि आरोपी जानकर अपने गिरफ्तार होने की सूचना दे रहा है। अभी गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं हुई है।

घटना एत्माउद्दौला के कालिंदी विहाई की है। 28 मई को हुए शिवम यादव हत्या के मामले में आलोक यादव मुख्य आरोपी है। जो एटा का मूल निवासी है। पर कालिंदी विहार में रहता है। हिस्ट्रीशीटर आलोक यादव ने सरेआम सनी जाट व चंदसेन सम्राट सहित अपने छह साथी संग वारदात को अंजाम दिया था। आलेक यादव ने शिवम को बुलाकर गोली मार उसकी हत्या की थी। इस मामले में पुलिस ने आरोपी सनी जाट को गिरफ्तार किया था और बाद में कई आरोपियों की गिरफ्तारी हुई थी। पर घटना का मुख्य आरोपी आलोक यादव पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था। आरोपी पर कई एफआईआर दर्ज है।

गिरफ्तारी के लिए संभल पुलिस ने बिछाया जाल

आलोक यादव के संभल में होने की खबर मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई। मुखबिर ने सूचन दी की आरोपी नीली जींस व सफेद शर्ट पहने चंदौसी चौराहे के पास मौजूद है। पुलिस ने आलोक यादव को गिरफ्तार करने के लिए जाल बिछाया था। 31 मई की रात 11 बजे पुलिस ने दबिश देकर आरोपी को दबोच लिया। तलाशी में पुलिस को आलोक यादव के पास से एक अवैध तमंचा और दो जिंदा कारतूस बरामद हुआ। संभल पुलिस ने आरोपी को आर्म्स एक्ट के तहत जेल भेज दिया।

पुष्टि के बाद रिमांड पर लाएंगे आगरा

आरोपी की गिरफ्तारी से अंजान आगरा के एत्माउद्दौला थाने के एसओ देवेंद्र कुमार का कहना है कि अभी तक आलोक यादव की गिरफ्तारी की पुष्टि नहीं हो सकी है। हो सकता है वो जानबूझकर अपनी गिरफ्तारी की सूचना दे रहा हो। आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर संभल पुलिस से संपर्क किया जा रहा है। पुष्टि होने के बाद आरोपी को रिमांड पर आगरा लाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...