पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पूर्व IAS की बेटी के धर्मांतरण में खुलासा:रसूखदार लोगों के साथ फोटो खिंचवाने का शौकीन था आरिफ, होटल में फ्री में कमरा देकर कॉल गर्ल के साथ करता था अय्याशी; पीड़ित महिला ने ही कर ली रिकॉर्डिंग

आगरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
धर्मांतरण का आरोपी आरिफ हाशमी - Dainik Bhaskar
धर्मांतरण का आरोपी आरिफ हाशमी

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में पूर्व मेयर और रिटायर्ड IAS की बहू के साथ बलात्कार और धर्मांतरण के आरोपी आरिफ की जांच में पुलिस को बहुत से सुराग हाथ लगे हैं। पुलिस उनको भी केस डायरी में शामिल कर रही है। बीते रविवार को सामने आए रिटायर्ड आईएएस अधिकारी की पुत्री और आगरा के पूर्व मेयर की बेटी के साथ शोषण और धर्मांतरण के आरोपी के बारे में रोज नई बातें सामने आ रही हैं।

पुलिस को उसके मोबाइल से कई महिलाओं के नम्बर मिले हैं जिनसे उसकी लंबी बातें होती थीं। पुलिस सूत्रों की मानें तो इनमें से कई कॉल गर्ल हैं जो लगातार उसके संपर्क में रहती थीं। आरोपी होटल में मुफ्त कमरा देकर उनके साथ अय्याशी करता रहता था। पीड़ित महिला ने भी होटल के कमरे में खुफिया कैमरे लगवाकर उसकी अय्याशी की रिकार्डिंग की थी।

फ़ोटो खिंचवाने का शौकीन था धर्मांतरण का आरोपी

आरोपी आरिफ को फोटो खिंचवाने का बहुत शौक था। किसी भी रसूखदार के आने पर वो किसी न किसी तरह जुगाड़ लगाकर फोटो खिंचवाने पहुंच जाता था।अभी कुछ समय पोइव एक फ़िल्म यूनिट को फ़ोटो के लालच में होटल देने के बाद उसने होटल का काफी पैसा डुबो दिया था।

दो शादियों की हो चुकी जानकारी अन्य के बारे में जानकारी जुटा रही पुलिस

धर्मांतरण और बलात्कार के आरोपी आरिफ के बारे में पुलिस को जानकारी मिली है कि बीस साल पोइव उसने गोरखपुर की एक महिला से राणा सिंह बनकर शादी की थी और उसका धर्मपरिवर्तन करवा कर बेटे का नाम भी मुस्लिम धर्म का रखा था।उसके साथ आये दिन मारपीट और अप्राकृतिक कुकर्म करने के चलते महिला ने उससे तलाक ले लिया था।इसके बाद उसने रिटायर्ड आईएएस की पुत्री को भी ऐसे ही फंसाकर उसका धर्म बदलवाकर निकाह कर लिया था।

यातनाएं देने में माहिर था आरिफ

पीड़ित महिला द्वारा पुलिस को दिए बयान के आधार पर जानकारी मिली है कि आरिफ को महिलाओं को यातनाएं देने में मजा आता था।शराब पीकर सम्बन्ध बनाते समय सिगरेट से दागना,बाल नोंचना और बेल्ट से पीटना उसे उत्तेजित करता था।

आरोपी आरिफ के दोस्तों की कुंडली भी पुलिस खंगाल रही है।कहीं यह पेशेवर धर्मांतरण का अपराधी तो नहीं इसकी जांच के लिए एटीएस और एसटीएफ ने भी तैयारी शुरू कर दी है।आरोपी आरिफ का होटल पर पूरा कब्जा था और वो जीएम बनकर बैठता था।सुबह ग्यारह बजे से उसकी बैठकों का दौर चयय के साथ शुरू होता था और रात में पार्टियों तक खत्म होता था।