आगरा....आवारा श्वानों को संरक्षण देना पड़ा भारी:सिपाही की पत्नी ने दर्ज कराया मुकदमा, आवारा श्वानों से पूरे मोहल्ले में था दहशत का माहौल

आगरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आवारा श्वानों को नियम विरुद्ध संरक्षण देने और विरोध पर झगड़ा करने पर दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ - Dainik Bhaskar
आवारा श्वानों को नियम विरुद्ध संरक्षण देने और विरोध पर झगड़ा करने पर दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ

आगरा के थाना ताजगंज क्षेत्र में कालोनी के मकान में आवारा श्वानों को संरक्षण देने और नियम विरुद्ध काम के विरोध पर झगड़ा करने के मामले में पुलिस ने सिपाही की पत्नी की तहरीर पर दो लोगों पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। आवारा श्वानों से परेशान होकर सिपाही की पत्नी ने न्याय के लिए मुख्यमंत्री से गुहार लगाई थी।

मामला थाना ताजगंज के देवरी रोड स्थित डिफेंस कालोनी का है। यहां की रहने वाली पूनम पत्नी अवनीश का पड़ोसी सुरेंद्र सक्सेना,शिवा सक्सेना और उनके घर की युवतियों से विवाद हुआ था। पूनम का आरोप था की पड़ोसी घर पर आवारा श्वानों को संरक्षण देते हैं। मकान की रजिस्ट्री के दौरान ही बिल्डर से यह लिखित एकग्रीमेंट हुआ था कि कोई अपने घर मे जानवर नहीं पाल सकता है। पड़ोसी आवारा श्वानों को संरक्षण देते थे पर न कोई बाड़ा बनाया था और न ही श्वानों का टीकाकरण, गले मे पट्टा जैसे नियम को फॉलो किया जा रहा था। इस कारण खुजली और अन्य बीमारियों से ग्रसित आवारा श्वान हर वक्त कालोनी में खुले घूमते रहते हैं और बीमारी का खतरा बना रहता है। कई बार बच्चों और बड़ो को आवारा श्वान काट भी चुके हैं। पुलिस ने दोनों आरोपियों। के खिलाफ आईपीसी की धारा 269, 352, 504, 506 के तहत मामला दर्ज किया है।

आवारा कुत्तों के डर से डंडा लेकर घुमते कालोनी के 90 वर्षीय पुजारी
आवारा कुत्तों के डर से डंडा लेकर घुमते कालोनी के 90 वर्षीय पुजारी

जुलाई से बढ़ा था विवाद

पूनम के अनुसार आवारा श्वानों से परेशान होकर पड़ोसी सुरेंद्र सक्सेना और शिवा सक्सेना से शिकायत करने पर उन्होंने गाली गलौच और जान से मारने की धमकी दी। पुलिस को सूचना देने के बाद 18 जुलाई को कुछ एनजीओ के लोग आये और कार्रवाई की धमकी देते हुए लेटर दिया गया। 15 अक्टूबर को फिर धारा 166 के तहत कार्रवाई की धमकी दी गयी। घर के अंदर कुत्ते पालने का वीडियो बनाते हुए मेरे पति के पुलिस में होने के कारण प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए झूठा वीडियो वायरल किया गया, जबकि पति सुबह से रात तक ड्यूटी पर रहते हैं और उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं था। पति को इतना प्रताड़ित किया गया की वो अवसाद में आ गए।

कई महीनों से परेशान थे कालोनी वासी
कई महीनों से परेशान थे कालोनी वासी

मुख्यमंत्री तक की शिकायत

आरोपियों द्वारा नियम विरुद्ध काम करने के बाद भी जब धमकाया जाने लगा तो पुलिस से शिकायत की गई और 20 अक्टूबर को पुलिस ने शांतिभंग में चालान कर दिया। इसके बाद पूनम ने मुख्यमंत्री पोर्टल और ट्विटर पर शिकायत की। शिकायत के बाद थाना ताजगंज पुलिस ने जांच की और जांच में समस्त कालोनी वासियों के बयान और साक्ष्य के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। सीओ राजीव कुमार के अनुसार पीड़ित पक्ष की तहरीर पर दो लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। मुकदमे की विवेचना की जा रही है।