जोंस मिल प्रकरण की होगी जांच:कानपुर से आगरा पहुंची आर्थिक अपराध अनुसंधान की टीम, शिकायतकर्ता के दर्ज करेगी बयान

आगरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जोंस मिल की फोटो। - Dainik Bhaskar
जोंस मिल की फोटो।

जोंस मिल परिसर की जमीन कब्जा करने और बेचने के मामले में आर्थिक अपराध अनुसंधान कानपुर की टीम एक बार फिर आगरा पहुंच गई है। शनिवार को टीम के सदस्य जोंस मिल मामले का खुलासा करने वाले शिकायतकर्ता कपिल बाजपेई के बयान दर्ज करेगी।कपिल ने बताया कि बयान के दौरान इस मामले से जुड़े अहम दस्तावेज टीम को सौपेंगे।

19 जुलाई 2020 को जोंस मिल परिसर में बम धमाका

दरअसल जोंस मिल परिसर में किरायेदार से गोदाम खाली कराने के लिए 19 जुलाई 2020 को बम धमाका हुआ था। इस मामले में पुलिस ने मास्टरमाइंड रज्जो जैन समेत नौ आरोपितों को जेल भेजकर घटना का पर्दाफाश कर दिया था।

इसके बाद जोंस मिल परिसर की जमीन को नियम विरुद्ध खरीदने और बेचने का मामला सामने आया। डीएम प्रभु एन. सिंह ने इसकी जांच के लिए टीम गठित कर दी।

छत्ता थाने में मुकदमा दर्ज

टीम की रिपोर्ट के बाद लेखपाल सजल कुमार कुलश्रेष्ठ ने छत्ता थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। इसमें रज्जो जैन, सरदार कंवलदीप सिंह और बिल्डर चुनमुन अग्रवाल नामजद थे। इन पर जोंस मिल की जमीन को खुर्द-बुर्द करने का आरोप था।

जांच के बाद मुकदमे में फर्जी दस्तावेज तैयार करने की धारा भी बढ़ाई गई। पुलिस ने हेमेंद्र अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया,जबकि रज्जो जैन और सरदार कंवलदीप सिंह को कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई।

तीन माह बाद भी नहीं लगी चार्जशीट

जोंस मिल मामले में छत्ता पुलिस तीन माह में चार्जशीट नहीं लगा पाई है।शिकायतकर्ता का आरोप है कि साक्ष्य संकलन के नाम पर आरोपितों को बचाव का पुलिस ने पूरा मौका दिया।इसके बाद शासन ने विवेचना आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा कानपुर स्थानांतरित कर दी थी।अब फिर से नए सिरे से विवेचना शुरू हो गई है।

5 दिन पहले बयान दर्ज कराने के लिए मिली थी नोटिस

जोंस मिल मामले के मुख्य शिकायतकर्ता कपिल बाजपेई ने बताया कि 5 दिन पहले बयान दर्ज कराने के लिए आर्थिक अपराध अनुसंधान कानपुर से उन्हें नोटिस प्राप्त हुआ था।आज शनिवार को टीम उनके कलमबद्ध बयान दर्ज करेगी।

इस घोटाले से जुड़े सभी दस्तावेज वह टीम को सौंपेंगे। उन्होंने बताया कि इस मामले में दो भाजपा विधायकों से जुड़े हुए नज़दीकियों के कारण पुलिस प्रशासन सही तरीके से इस मामले पर कार्यवाही नहीं कर रहा है।

खबरें और भी हैं...