• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Agra
  • Three Stations Of The Priority Corridor Started Taking Shape, Even After The Record, The Government's Wish Was Incomplete, Read The Report

आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट के एक साल पूरे:प्रायोरिटी कॉरिडोर के तीन स्टेशन लेने लगे आकार, रिकार्ड के बाद भी सरकार की इच्छा अधूरी, पढ़े रिपोर्ट

आगरा7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ताजगंज के फतेहाबाद रोड पर चल रहा मेट्रो निर्माण कार्य - Dainik Bhaskar
ताजगंज के फतेहाबाद रोड पर चल रहा मेट्रो निर्माण कार्य

बीते 7 दिसम्बर 2020 को आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वर्चुअल उद्घाटन किया गया था। कोरोना काल मे भी लगातार रिकार्ड लेवल पर काम करने के बाद भी अभी पहले कॉरीडोर के तीन स्टेशन ही आकार ले पाए हैं। मेट्रो कार्पोरेशन भले ही अपनी पीठ थपथपा रहा है पर वर्तमान निर्माण कार्य के आधार पर यह तय है की वर्तमान सरकार इस प्रोजेक्ट का शुभारंभ नहीं कर पायेगी। इसके साथ ही निर्माण कार्य के दौरान होने वाली परेशानियों से जनता को काफी समय तक सामना करना पड़ेगा।यूपीएमआरसी के एमडी कुमार केशव के अनुसार आगरा मेट्रो प्रायॉरिटी कारीडोर के एलिवेटेड भाग में एक वर्ष में लगभग 50 प्रतिशत सिविल निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है।

बता दें कि 8380 करोड़ की लागत से बन रहे आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट के तहत रोजाना साढ़े सात लाख लोगों को आसान सफर मिलने की बात कही गयी है। प्रोजेक्ट का फायदा आगरा के लगभग 27 लाख से अधिक लोगों को मिलेगा। पर्यटन उद्योग के लिए मेट्रो को संजीवनी माना जा रहा है। प्रोजेक्ट की नींव डालने के बाद 2022 तक पहले कॉरीडोर का काम पूरा किये जाने की उम्मीद थी पर तमाम विभागों और सुप्रीम कोर्ट, टीटीजेड व एनजीटी की एनओसी व अन्य अधिग्रहण के चलते पहले ही काम देर से पूरा होने की बात कही गयी थी। इसके बाद मेट्रो जल्द शुरू करने के उद्देश्य से पहले कॉरिडोर के 13 स्टेशनों में से छः स्टेशनों के प्रायॉरिटी कारीडोर बनाया जाना था। इनमें से फतेहाबाद रोड पर ताजमहल पूर्वी गेट पर टीडीआई मॉल के पास और बसई स्टेशन पर प्लेटफार्म की लेवलिंग का काम पूरा हो गया है। तीसरा स्टेशन फतेहाबाद पुरानी मंडी के पास होगा। दोनों स्टेशन पर यू गर्डर रखी जा चुकी हैं। बसई स्टेशन के प्लेटफार्म से ताजमहल साफ नजर आने लगा है।

अब तक यह काम हो चुके पूरे

​​​​बमरौली कटारा स्थित कास्टिंग यार्ड में 50 पियरकैप का निर्माण पूरा कर लिया गया है, जिसमें से 44 पियर कैप का सफलतापूर्वक परिनिर्माण किया जा चुका है। बता दें कि ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच बन रहे प्रथम कॉरिडोर के प्रायॉरिटी सेक्शन में 3.2 कि.मी. लंबे ऐलिवेटिड भाग के लिए सिविल निर्माण कार्य जारी है। ऐलिवेटिड भाग में कुल 684 पाइल, 171 पाइलकैप एवं 171 पियर (पिलर) का निर्माण किया जाना है, जिसमें 663 पाइल, 148 पाइलकैप एवं 132 पियर (पिलर) का निर्माण पूरा कर लिया गया है। वहीं, वायाडक्ट निर्माण के लिए अबतक 16 यू गर्डर एवं 44 पियरकैप का परिनिर्माण पूरा कर लिया गया है। बमरौली कटारा स्थित कास्टिंग यार्ड में आगरा मेट्रो द्वारा प्रीकास्ट तकनीक के जरिए यू गर्डर, डबल टी गर्डर एवं पीयरकैप की कास्टिंग का कार्य किया जा रहा है। आगरा मेट्रो द्वारा अबतक 50 पियरकैप की कास्टिंग का कार्य सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया है। इसके साथ ही अब तक 125 डबल टी गर्डर एवं 48 यू गर्डर की कास्टिंग पूरी हो गई है। बता दें कि ऐलिवेटिड भाग के प्रोयॉरिटी सेक्शन के लिए कुल 144 डबल टी गर्डर एवं 196 यू गर्डर की कास्टिंग की जानी है।इसके साथ ही ऐलिवेटिड भाग के सभी तीन स्टेशन (ताज ईस्ट गेट- बसई- फतेहाबाद रोड) भी अब आकार लेने लगे हैं। ताज ईस्ट गेट एवं बसई मेट्रो स्टेशन पर कॉन्कोर्स निर्माण के लिए डबल टी गर्डर का परिनिर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है। वहीं, फतेहाबाद रोड मेट्रो स्टेशन के कॉन्कोर्स निर्माण के लिए हॉरिजोंटल बीम की कास्टिंग का काम किया जा रहा है।

दो कारीडोर में 27 स्टेशन

मेट्रो प्रोजेक्ट के तहत 29.4 कि.मी. लंबे दो कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें कुल 27 स्टेशन होंगे। 14 कि.मी. लंबे प्रथम कॉरिडोर का निर्माण ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच किया जा रहा है। इस कॉरिडोर में 13 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा, जिसमें 6 एलीवेटिड जबकि 7 भूमिगत स्टेशन होंगे। वहीं, आगरा कैंट से कालिंदी विहार के मध्य लगभग 16 कि.मी. लंबे दूसरे कॉरिडोर में 14 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा, जिसके सभी स्टेशन ऐलीवेटिड होंगे।

यह होंगे स्टेशन और उनके यूनिक कोड

मेट्रो ट्रेन व स्टेशन परिसर में लगे डिस्प्ले बोर्ड व अन्य जगहों पर यूनिक कोड का प्रयोग किया जाएगा। बता दें, रेलवे के साथ-साथ देश भर में संचालित सभी मेट्रो सेवाओं में भी स्टेशनों के लिए यूनिक कोड का प्रयोग किया जाता है। भारतीय रेल सम्मेलन संगठन द्वारा पूरी जांच के बाद इन कोड्स को मंजूरी दी जाती है।

फर्स्ट कॉरिडोर के यूनिक कोड व स्टेशन

1. ताज ईस्ट गेट- TEGT

2. बसई- BSAM

3. फतेहाबाद रोड- FTBR

4. ताजमहल- TJML

5. आगरा फोर्ट- AFTM

6. जामा मस्जिद- JMDM

7. मेडिकल कॉलेज- MDCL

8. आगरा कॉलेज-AGCL

9. राजा की मण्डी- RKMM

10. आर.बी.एस कॉलेज- RBSC

11. आई. एस. बी. टी.- ISBT

12. गुरू का ताल- GKTL

13. सिकंदरा- SKRM

सेकंड कॉरिडोर के स्टेशन व यूनिक कोड

1. आगरा कैंट- AGCM

2. सदर बाजार- SDBZ

3. कलैक्ट्रेट- CLTR

4. सुभाष पार्क- SBPK

5. आगरा कॉलेज- AGCL

6. हरिपर्वत-HRPT

7. संजय प्लेस-SJPL

8. एमजी रोड-MGRM

9. सुल्तानगंज- SGJM

10. कमलानगर-KLNR

11. रामबाग- RMBM

12. फाउंड्री नगर - FDNR

13. आगरा मण्डी- AGMD

14. कालिंदी विहार- KLVH

खबरें और भी हैं...