केंद्रीय संस्कृति मंत्री अर्जुन राम मेघवाल पहुंचे आगरा:एएसआई के अधिकारियों के साथ एक घंटे की बैठक, अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई की जानकारी ली

आगरा:2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अधिकारियों ने केंद्रीय मंत्री को संरक्षित स्मारकों के लिए समान नियम होने की जानकारी देते हुए उन्हें बताया कि किसी भी संरक्षित स्मारक के 100 मीटर की परिधि में उत्खनन या निर्माण कार्य नहीं हो सकता है। - Dainik Bhaskar
अधिकारियों ने केंद्रीय मंत्री को संरक्षित स्मारकों के लिए समान नियम होने की जानकारी देते हुए उन्हें बताया कि किसी भी संरक्षित स्मारक के 100 मीटर की परिधि में उत्खनन या निर्माण कार्य नहीं हो सकता है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारियों की बैठक में भाग लेने के लिए केंद्रीय संस्कृति मंत्री अर्जुन राम मेघवाल आगरा में हैं। बुधवार दोपहर को केंद्रीय मंत्री भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के माल रोड स्थित सर्किल आफिस में पहुंचे। उन्होंने यहां पर करीब एक घंटे तक अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कोस मीनार के बारे में जानकारी की। इसके अलावा ब्रज क्षेत्र के पदाधिकारियों के साथ बैठक में चुनाव की तैयारियों को लेकर मंथन किया।

एक घंटे की बैठक में कई बिंदुओं पर ली जानकारी

केंद्रीय संस्कृति मंत्री ने एएसआई संरक्षित स्मारकों के पास होने वाले अवैध निर्माणों के बारे में जानकारी ली। इसके साथ इन अवैध निर्माणों पर एएसआई की ओर से क्या कार्रवाई की गई है, इसे बारे में पूछा। इसके अलावा उन्होंने कोस मीनार के बारे में जानकारी ली। उन्होंने पूछा कि कोस मीनार क्या हैं? यह कब बनाई गई थीं? इनका उपयोग क्या था? कोस मीनार और ताजमहल समेत अन्य स्मारकों के संरक्षण के लिए क्या नियम हैं ? इस पर एएसआइ अधिकारियों द्वारा उन्हें कोस मीनार के बारे में जानकारी दी गई।

अधिकारियों ने केंद्रीय मंत्री को संरक्षित स्मारकों के लिए समान नियम होने की जानकारी देते हुए उन्हें बताया कि किसी भी संरक्षित स्मारक के 100 मीटर की परिधि में उत्खनन या निर्माण कार्य नहीं हो सकता है। 100 मीटर की परिधि के बाहर 200 मीटर की परिधि तक सक्षम अधिकारी की अनुमति प्राप्त कर काम कराया जा सकता है। ताजमहल और कोस मीनार के लिए समान नियम हैं।

एएसआई के अधिकारियों संग बैठक करते केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल।
एएसआई के अधिकारियों संग बैठक करते केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल।

पर्यटकों को होने वाली परेशानी के बारे में पूछा

बैठक में केंद्रीय मंत्री में आगरा में आने वाले पर्यटकों की सुविधा और उन्हें होने वाली परेशानियों के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि पर्यटकों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। केंद्रीय मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वह अभी कुछ दिन तक ब्रज में ही रहेंगे।

पर्यटन सुविधाओं को बढ़ाने के लिए अधिकारी नियमित संपर्क में रहें। उन्होंने एएसआइ के कार्यों, उसके सामने आने वाली चुनौतियों और स्टाफ के बारे में जानकारी की। बैठक में अधीक्षण पुरातत्वविद् राजकुमार पटेल, निवर्तमान अधीक्षण पुरातत्वविद् डा. वसंत कुमार स्वर्णकार समेत अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

बूथ मजबूत करने पर दिया जोर

केंद्रीय संस्कृति मंत्री व चुनाव सह प्रभारी अर्जुन राम मेघवाल ब्रज क्षेत्र के भाजपा के अलग-अलग मोर्चा के पदाधिकारियों के साथ आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर पल्स रिसोर्ट में बैठक की। उन्होंने कहा कि ब्रज भूमि पं. दीनदयाल उपाध्याय और अटल बिहारी वाजपेयी की जन्म और कर्म भूमि है। चुनाव को लेकर सभी को अभी से तैयारियों में जुटना होगा। बूथ को मजबूत करना होगा। लोगों से सीधे जुड़ें। सरकार के योजनाओं के बारे में बताएं। प्रदेश सह प्रभारी संजीव चौरसिया ने कहाकि सभी संगठन के प्रमुख लोग हैं। एक-एक कार्यकर्ता को तैयारी में जुटना होगा।

खबरें और भी हैं...