पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

UP में योगी सरकार में सब ठीक नहीं:आगरा में डिप्टी सीएम केशव से पूछा- अगले चुनाव में CM फेस कौन होगा? बोले- ये दिल्ली तय करेगा; भाषण में भी योगी का जिक्र नहीं किया

आगरा/मथुरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को आगरा और मथुरा जिले को 483 करोड़ रुपए की योजनाओं का तोहफा दिया। - Dainik Bhaskar
उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को आगरा और मथुरा जिले को 483 करोड़ रुपए की योजनाओं का तोहफा दिया।

उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। इसका अंदाजा उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य के ताजा बयान से लगा सकते हैं। केशव प्रसाद मौर्य बुधवार को आगरा पहुंचे। यहां उनसे पत्रकारों ने सवाल किया कि अगले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा? जवाब में मौर्य बोले- ये केशव तो तय नहीं करते हैं। सीएम कौन होगा? यह दिल्ली बताएगा। मुख्यमंत्री भाजपा का शीर्ष नेतृत्व तय करता है। वह ही इसका जवाब भी दे सकते हैं। उप मुख्यमंत्री के इस जवाब से जाहिर है कि अभी भी योगी सरकार में सब कुछ ठीक नहीं है।

योगी का एक भी बार नाम नहीं लिया
इससे पहले केशव प्रसाद मौर्य ने आगरा और मथुरा जिले के लिए 483 करोड़ रुपए की योजनाओं का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने मंच से 10 मिनट का संबोधन भी किया। इसके बाद 10 मिनट तक पत्रकारों के सवाल का जवाब दिया। इस दौरान उन्होंने कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गुजरात मॉडल का जिक्र किया। लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एक बार भी नाम नहीं लिया। बल्कि जहां-जहां उनका नाम लेने की जरूरत थी, वहां उन्होंने प्रदेश सरकार शब्द का प्रयोग किया।

आगरा में परियोजनाओं का लोकार्पण करते उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य।
आगरा में परियोजनाओं का लोकार्पण करते उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य।

प्रदेश का विभाजन काल्पनिक बात
प्रदेश को चार हिस्सों में बांटने की चर्चा को उप मुख्यमंत्री ने हंसते हुए कहा कि ये एक काल्पनिक प्रश्न है। इसका कोई अस्तित्व नहीं है। वहीं, उन्होंने विपक्ष पर भी निशाना साधा। कहा, कुछ लोग इस बात की फिराक में हैं, कैसे भी उन्हें प्रदेश की सत्ता में आने का मौका मिल जाए। लेकिन वो मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं। चुनाव परिणाम आने पर घर पर बैठकर हार के कारणों पर विचार कर रहे होंगे।

दुष्प्रचार करने पर दर्ज होगा केस
गाजियाबाद में मुस्लिम बुजुर्ग की दाढ़ी काटने के वायरल वीडियो पर दर्ज हुए केस के मामले में मौर्य ने कहा कि गाजियाबाद में दो मुस्लिम भाइयों में झगड़ा हुआ। पता नहीं क्यों एक ने मारते हुए दूसरे से जय श्री राम बोलने को कहा। उस वीडियो को सोशल मीडिया ट्वीटर पर डाला गया। ट्वीटर ने उसे नहीं हटाया। कोई भी प्लेटफार्म हो चाहे सोशल मीडिया या कोई और दुष्प्रचार नहीं होना चाहिए। अगर कोई ऐसा करता है तो कार्रवाई जरूर होनी चाहिए और आगे भी होगी।

खबरें और भी हैं...