पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पढ़ने की उम्र में ब्लैकमेलिंग:बहला-फुसलाकर छात्रा की खींच ली निजी पलों की फोटो; फिर डिलीट करने के नाम पर वसूले 1.75 लाख रुपए, गिरफ्तार

आगरा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस प्रकरण में ताजगंज पुलिस मामले की जांच में जुटी है। - Dainik Bhaskar
इस प्रकरण में ताजगंज पुलिस मामले की जांच में जुटी है।
  • शहर के एक प्रतिष्ठित कॉन्वेंट स्कूल का मामला
  • आरोपियों की लालच बढ़ने पर पीड़िता ने परिवार से किया जिक्र

उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक प्रतिष्ठित कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा को उसी के स्कूल में पढ़ने वाले छात्र ने अपने दोस्त की मदद से ब्लैकमेल कर 1.75 लाख रुपए ऐंठ लिए। आरोपी छात्र ने छात्रा की एक अश्लील फोटो हासिल कर ली थी। जिसे वह वायरल करने की धमकी दे रहा था। जब आरोपी की लालच बढ़ गई तो छात्रा ने परिवार को बताया। परिवार की शिकायत पर पुलिस ने दो नामजद आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस ने दोनों आरोपियों का पकड़ लिया है।

दूसरे सेक्शन में पढ़ता है आरोपी छात्र

पीड़ित परिवार ने तहरीर में लिखा है कि उनकी बेटी सदर थाना क्षेत्र में स्थित एक कॉन्वेंट स्कूल में 12वीं कक्षा की छात्रा है। दूसरे सेक्शन में पढ़ने वाले एक छात्र ने उनकी बेटी को बहला फुसलाकर उसके अश्लील फोटो खींचकर अपने पास मंगवा ली। बाद में स्कूल के ही एक पूर्व छात्र के साथ मिलकर छात्रा पर लगातार दबाव बनाकर लाखों रुपए की वसूली की।

नामी परिवारों से है दोनों आरोपी छात्र

पीड़िता को ब्लैकमेल करने वाले दोनों आरोपी छात्र शहर के नामी परिवारों से है। इसी दबाव के चलते पुलिस कई दिनों तक केस दर्ज करने के नाम पर पीड़िता के परिजनों को टहलाती रही। पीड़िता के परिजनों के अनुसार पैसे ने देने की सूरत में फोटो वायरल कर बदनाम करने की धमकी देते रहे। आरोपियों ने 4 मार्च 2021 से 12 मार्च 2021 के बीच 1 लाख 75 हजार रुपए वसूल भी लिए।

आरोपियों का लालच बढ़ता गया। दोनों आरोपियों ने फोटो डिलीट नहीं की बल्कि और पैसो की डिमांड करने लगे। परेशान होकर छात्रा ने अपने परिजनों को पूरे मामले से अवगत कराया तो उनके पैरों तले जमीन निकल गयी। परिजनों ने तत्काल थाना पुलिस में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए नामजद तहरीर दी।

थाना पुलिस ने बरती लापरवाही

पीड़िता के परिवार ने 13 मार्च 2021 को आरोपियों पर कार्रवाई करने के लिए थाना ताजगंज पुलिस को तहरीर दी थी। 5 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा कुछ नहीं किया गया। 18 मार्च को कुछ बदलाव के साथ पीड़िता के परिवार से पुनः तहरीर ली गई। जिस पर गुरुवार रात केस दर्ज किया गया।