ताजनगरी को मिलेगी राहत:ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए सेना ने संभाला मोर्चा, चालू किया बंद पड़ा प्लांट, हर दिन रिफिल होंगे 1600 सिलिंडर

आगरा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑक्सीजन प्लांट में लिक्विड की आवश्यकता नहीं होगी। - Dainik Bhaskar
ऑक्सीजन प्लांट में लिक्विड की आवश्यकता नहीं होगी।

ताजनगरी आगरा में कोरोना महामारी के बीच ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए थल और वायु सेना ने मोर्चा संभाल लिया है। यहां बंद पड़े टेढ़ी बगिया स्थित अग्रवाल ऑक्सीजन प्लांट को रातों-रात करीब 8-10 घंटे के भीतर प्लांट चालू कर दिया गया। ट्रायल के बाद जल्द इस प्लांट से ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाएगी। प्लांट में हवा से ऑक्सीजन बनेगी और हर दिन 1600 सिलिंडर रिफिल किए जा सकेंगे।

काफी दिनों से बंद पड़ा था प्लांट

जलेसर रोड स्थित अग्रवाल गैस प्लांट ट्रायल के बाद बंद पड़ा हुआ था। जब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन की किल्लत शुरू हुई तो वैकल्पिक व्यवस्थाओं पर नजर दौड़ाई गई। जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह ने गैस प्लांट का निरीक्षण किया। इसके बाद इसकी शुरुआत करने के लिए आर्मी और एयरफोर्स से मदद मांगी। गैस प्लांट के कंप्रेशर और जरूरी उपकरण को बुधवार की रात 11 बजे विशेष विमान से अहमदाबाद से आगरा लाया गया। प्लांट की कुछ कमियों को दूर करने के लिए आगरा आर्मी टू पैरा और 50 पैरा के इंजीनियर देर रात तक जुटे रहे। सुबह प्लांट को चालू कर दिया गया है।

संक्रमित मरीजों को मिलेगी राहत

जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह ने बताया कि इस ऑक्सीजन प्लांट के शुरू होने से आगरा में ऑक्सीजन से राहत मिल सकती है। सालों से बंद पड़े अग्रवाल गैस प्लांट को शुरुआत करने के लिए आर्मी और एयर फोर्स ने मोर्चा संभाल कर प्लांट को सुबह तक चालू कर दिया है। यह जिले का दूसरा प्लांट है जो कि एयर से ऑक्सीजन तैयार करेगा।

प्लांट में आई फॉल्ट को ठीक करते आर्मी के जवान।
प्लांट में आई फॉल्ट को ठीक करते आर्मी के जवान।

लिक्विड की जरूरत नहीं पड़ेगी

कंपनी के इंजीनियर का कहना है इस प्लांट में लिक्विड की आवश्यकता नहीं होगी। इस प्लांट में हवा से ऑक्सीजन तैयार होगी। वहीं, ऑक्सीजन प्लांट के मालिक के अनुसार प्लांट का मकसद इंडस्ट्रियल एरिया में सप्लाई के लिए किया गया था। मगर अब कोरोना संकटकाल में इसकी आवश्यकता मेडिकल क्षेत्र में महसूस की गई तो इसे प्रशासन के सहयोग से शुरू किया गया है जो आगरा की ऑक्सीजन की कमी को दूर करेगा।

खबरें और भी हैं...