नींबू के बाद अब हरा धनिया हुआ महंगा:गर्मी में सब्जियों के रेट आसामन छू रहे, थोक के मुकाबले रिटेल में दोगुने भाव

आगरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गर्मी में हरी सब्जियों के भाव लगातार बढ़ रहे हैं। नींबू के बाद अब हरा धनिया भी महंगा हो गया है। - Dainik Bhaskar
गर्मी में हरी सब्जियों के भाव लगातार बढ़ रहे हैं। नींबू के बाद अब हरा धनिया भी महंगा हो गया है।

महंगाई बेकाबू होती जा रही है। महंगाई के चलते सब्जियां अब थाली से बाहर होती जा रही हैं। नीबू के बाद अब हरे धनिया के रेट भी आसमान छू रहे हैं। आज बसई एवं सिकंदरा सब्जी मंडी में आवक कम होने से हरा धनिया 40 रुपये प्रति किलो के पार बिका। वहीं रिटेल में सब्जी विक्रेताओं ने 100 रुपये प्रति किलो तक हरा धनिया बेचा। हरी मिर्च के रेट भी थोक में 40 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गए हैं।

बता दें कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने का असर सब्जियों पर भी पड़ रहा है। सब्जियां महंगी होती जा रही हैं। आज सुबह बसई और सिकंदरा सब्जी मंडी में थोक के भाव में तेजी रही। आलू 16 से 18 रुपये किलो, नीबू 100 रुपये किलो, प्याज 12 से 13 रुपये प्रति किलो, लौकी 10 से 14 रुपये प्रति किलो, तोरई 10 से 12 रुपये प्रति किलो, हरी मिर्च 40 रुपये प्रति किलो, खीरा 10 से 14 रुपये प्रति किलो, टमाटर 24 रुपये प्रति किलो, गोभी 45 रुपये प्रति किलो, पालक 10 से 12 रुपये प्रति किलो, बैंगन 20 रुपये प्रति किलो के रेट में बिका।

गर्मी में खराब निकल रही सब्जियां, दोगुने किए रेट
गर्मी के चलते सब्जियां जल्दी खराब हो रही हैं। रिटेल में इसलिए दोगुने भावों में बेची जा रही हैं। रिटेलर मुकेश कुमार ने बताया कि बसई और सिकंदरा सब्जी मंडी के थोक रेट रिटेल के मुकाबले भले ही कम हैं। कई सब्जियों को दोगुना रेट पर बेचने पर भी नुकसान हो रहा है। हरी सब्जी मुश्किल से एक दिन चल पाती है। गर्मी से सब्जी सूख रहीं हैं। 50 किलो के बोरे में कई बार 5 किलो आलू खराब निकल आता है, नुकसान की भरपाई के लिए रिटेल में ग्राहकों को सब्जी महंगी देनी पड़ती है।

खबरें और भी हैं...