आगरा में अचानक अस्पताल पहुंचे डिप्टी CM:इमरजेंसी के बाहर रुके तो चबूतरे पर पड़ा था मरीज, लोगों ने कहा- ऐसा होते रहना चाहिए

आगरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसएन इमरजेंसी के औचक निरीक्षण के दौरान बाहर लेटे मरीज को डिप्टी सीएम ने तत्काल भर्ती करवाया - Dainik Bhaskar
एसएन इमरजेंसी के औचक निरीक्षण के दौरान बाहर लेटे मरीज को डिप्टी सीएम ने तत्काल भर्ती करवाया

मथुरा से आगरा एयरपोर्ट के लिए जाते समय डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक अचानक सरोजनी नायडू मेडिकल कालेज की इमरजेंसी पर रुक गए और मरीजों से बातचीत करने लगे। दरवाजे पर ही एक मरीज को चबूतरे पर पड़ा देख उन्होंने चिकित्सकों को फटकार लगाते हुए उसे भर्ती कराया और व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश दिए। डिप्टी सीएम के अचानक आकर व्यवस्थाएं देखने के बाद वहां मौजूद तीमारदारों ने उनकी जमकर तारीफ की।

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने मरीजों और तीमारदारों से जानकारी ली
डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने मरीजों और तीमारदारों से जानकारी ली

यूपी सरकार में डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार के लिए अचानक अस्पतालों में जाने के लिए प्रसिद्ध हो चुके हैं। शनिवार को उन्हें मथुरा के संस्कृत विद्यालय में शिरकत करनी थी। इसके लिए वो विमान से आगरा के खेरिया एयरपोर्ट आए थे। यहां से कार की ओर से मथुरा गए थे। आयोजन से लौटते समय उनका काफिला आगरा के एमजी रोड से गुजर रहा था।

इसी दौरान उनकी नजर आगरा के एसएन मेडिकल कालेज की इमरजेंसी बिल्डिंग पर पड़ी और उन्होंने अचानक गाड़ी रुकवा दी और चिकित्सा व्यवस्था का हाल जानने के लिए अंदर चले आये। डिप्टी सीएम के आने की जानकारी होते ही वहां चिकित्सकों में अफरा- तफरी मच गई और कुछ ही मिनटों में वहां प्रिंसिपल प्रशांत गुप्ता भी पहुंच गए।

इमरजेंसी के गेट पर लेटा मिला मरीज
इमरजेंसी के गेट पर लेटा मिला मरीज

खामियां देख लगाई फटकार

एसएन मेडिकल कालेज की इमरजेंसी में घुसते ही बाहर चबूतरे पर एक मरीज पेशाब की नली लगाये हुए नंगे बदन लेटा दिखायी दिया। पूछने पर मरीज ने बताया की उसे शुक्रवार को डिस्चार्ज कर दिया गया है और मजबूरी में वो यहां पड़ा हुआ है। इस पर उन्होंने चिकित्सकों को फटकार लगाते हुए मरीज को भर्ती करवाया।

मरीजों से बात कर ली जानकारी

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने इमरजेंसी में घूम कर तीमारदारों से बातचीत कर चिकित्सा व्यवस्था की जानकारी ली। मरीजों के फीडबैक के बाद वो सेवाओं से संतुष्ट नजर नहीं आए हैं। उन्होंने प्रिंसिपल प्रशांत गुप्ता को तत्काल व्यवस्थाओं में सुधार करने और दोबारा कुछ गड़बड़ी या अनदेखी मिलने पर कार्रवाई की बात कही है।

डिप्टी सीएम वर्सेज डिप्टी सीएम

ब्रजेश पाठक के औचक निरीक्षण के बाद मरीजों और उनके परिजनों ने उनकी जमकर तारीफ की। तीमारदार संदीप कुमार ने बताया की इस तरह अगर मंत्री बीच-बीच में आते रहें तो गरीब व्यक्ति को अच्छा इलाज मिलता रहेगा।

इससे पूर्व डिप्टी सीएम केशव मौर्या कीओर से जिला अस्पताल का निरीक्षण किया गया था और सब कुछ ऑल इज वेल मिला था। अगले ही दिन वहां की अव्यवस्थाओं की पोल खुल गयी थी। लोग सोशल मीडिया पर दोनों डिप्टी सीएम के निरीक्षण की तुलना कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...