पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मेट्रो में दिखेगी आगरा की ऐतिहासिक झलक:मुगलकालीन शैली की दिखेगी झलक, दिव्यागों और महिलाओं की सुरक्षा के होंगे विशेष इंतजाम...29 किमी के दो कॉरीडोर में होंगे 27 स्टेशन

आगरा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लखनऊ मेट्रो की तर्ज पर आगरा मेट्रो में कांच का अधिक प्रयोग किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
लखनऊ मेट्रो की तर्ज पर आगरा मेट्रो में कांच का अधिक प्रयोग किया जाएगा।

ताजनगरी आगरा में मेट्रो परियोजना धीरे धीरे आकार ले रही है। शहर के ऐतिहासिक रूप को देखते हुए मेट्रो ट्रेन को उसी विरासत पर तैयार किया जा रहा है। इसमें महिला सुरक्षा और दिव्यांगों की सुविधा का पूरा ख्याल रखा गया है।

लखनऊ मेट्रो की तर्ज पर कांच का होगा अधिक इस्तेमाल

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (यूपीएमआरसी) के प्रबंध निदेशक कुमार केशव के अनुसार आगरा मेट्रो के डिजाइन को ऐसे बनाया जा रहा है कि यह शहर की खूबसूरती को बिलकुल भी प्रभावित न करे। मेट्रो स्टेशनों के जरिए शहर की विरासत और संस्कृति को दिखाया जाएगा। इसके साथ ही लखनऊ मेट्रो की तर्ज पर आगरा मेट्रो में कांच का अधिक प्रयोग किया जाएगा। लखनऊ मेट्रो के सभी स्टेशनों पर कांच का अधिक प्रयोग किया गया है।

ताजमहल से सिकन्दरा तक पहला कॉरीडोर

ताजमहल के पूर्वी गेट से सिकंदरा के बीच बनने वाले आगरा मेट्रो के पहले कॉरिडोर के प्रायोरिटी सेक्शन में निर्माण कार्य तेज गति के साथ किया जा रहा है। आगरा शहर में मेट्रो निर्माण का कार्य पूरा होने के बाद कॉरिडोर के आस-पास सौन्दर्यीकरण का काम किया जाएगा। ऐलिवेटिड भाग में पीयर्स के बीच मीडीयन में पौधरोपण कर ग्रीन लैंडस्केप विकसित किया जाएगा। डिपो परिसर में कंपाउंड बाउंड्री वॉल के दोनों ओर पौधरोपण कर हरियाली विकसित की जाएगी।

मुगलकालीन शैली का अहसास कराएंगे स्टेशन

आगरा मेट्रो के स्टेशन परिसरों में मुगल वास्तुकला की खासियत रही लाल पत्थर की जालियों का प्रयोग किया जाएगा। इन जालियों के प्रयोग से स्टेशन की सुंदरता बढ़ेगी और वो रोशन और हवादार रहेंगे। लखनऊ और कानपुर की तरह आगरा में भी सभी एलिवेटिड स्टेशनों के ग्राउंड लेवल पर फुटपाथ का निर्माण किया जाएगा, जिससे पैदल यात्रियों को आवागमन में सुविधा होगी और स्टेशन परिसर का ग्राउंड लेवल व सडक भी आकर्षक नजर आएगी।

ग्राउंड लेवल पर दिव्यांगों के लिए लिफ्ट तक जाने के लिए रैम्प और टैकटाइल पाथ का निर्माण किया जाएगा। इसके साथ ही यहां टैक्सी के पिकअप एवं ड्रॉप पॉइंट्स भी बनाए जाएंगे। ग्राउंड लेवल पर लाइटिंग की भी पूरी व्यवस्था के साथ यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए दोनों कॉरिडोर में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

29 किमी की दूरी तय करेंगे दो कॉरीडोर

ताजनगरी आगरा में मेट्रो के 29.4 किलोमीटर लंबे दो कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है, जिसमें कुल 27 स्टेशन होंगे। 14 किमी लंबे पहले कॉरिडोर का निर्माण ताज ईस्ट गेट से सिकंदरा के बीच किया जा रहा है। इस कॉरिडोर में 13 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा। इनमें से 6 एलिवेटिड जबकि 7 भूमिगत स्टेशन होंगे। आगरा कैंट से कालिंदी विहार के बीच करीब 16 किमी लंबे दूसरे कॉरिडोर में 14 स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा, जिसके सभी स्टेशन ऐलीवेटिड होंगे।

खबरें और भी हैं...