कोल में अस्पताल में परिजनों ने किया हंगामा:डिलीवरी के दौरान महिला अस्पताल में हुई जच्चा बच्चा की मौत

कोल14 दिन पहले

अलीगढ़ के थाना बन्नादेवी इलाके के महिला जिला अस्पताल में शुक्रवार रात्रि डिलीवरी के दौरान जच्चा बच्चा की मौत हो गई । डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए परिजनों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस ने पोस्टमार्टम कार्रवाई के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। मौत की खबर से पर जन बेहाल हैं । वहीं उन्होंने पुलिस को मामले में तहरीर दे दी है।

जानकारी के मुताबिक, थाना सासनी गेट इलाके के मोहल्ला होली चौक मैं रहने वाले दीपक मेहनत मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करता है। 28 वर्षीय पत्नी सरिता पेट से थी प्रसव पीड़ा होने पर शुक्रवार दोपहर में उसको महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। देर शाम डॉक्टर जांच पड़ताल के बाद उसको लेबर रूम में लेकर पहुंचे। जहां से उन्हें डॉक्टर ने कुछ देर बाद मेडिकल ले जाने की सलाह दी। एंबुलेंस की मदद से परिजन सरिता को लेकर कटला पर पहुंचे तभी हॉस्पिटल से एंबुलेंस चालक के पास फोन पहुंचा और उसके बाद वापस अस्पताल ले आया।

एक बार फिर डॉक्टर सरिता को लेबर रूम में लेकर गए। जहां से कुछ देर बाद डॉक्टरों ने उसके और दो बच्चों के मरने की खबर दी। इस पर परिजनों का आक्रोश फूट पड़ा। डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। सूचना पर पुलिस पहुंच गई और गुस्साए लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। जिसके बाद परिजन शव को लेकर घर पहुंचे और पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। सासनी गेट पुलिस मौके पर पहुंची पंचनामा की कार्रवाई कर पोस्टमार्टम कराया और शनिवार दोपहर शव परिजनों को सौंप दिया है। मृतका के ससुर बलराम प्रसाद ने बताया कि सरिता के पास 2 साल की एक बेटी है जो कि नॉर्मल हुई थी उसकी मौत की खबर से परिजन भी हाल है ।

खबरें और भी हैं...