परेशानी बताकर दामाद से लिए रुपए, फिर दी धमकी:अलीगढ़ में एडवोकेट ने अपने चचिया ससुर के खिलाफ किया मुकदमा, बोले-रुपए मांगे तो मारने लगे

अलीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित एडवोकेट की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। - Dainik Bhaskar
पीड़ित एडवोकेट की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

अलीगढ़ में रुपए के लेनदेन में दामाद के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। दामाद ने अपने चचिया ससुर पर आरोप लगाया है कि उन्होंने पहले अपनी परेशानी बताकर रुपए मांगे। लेकिन दिए हुए समय से रुपए नहीं लौटाए। जब पीड़ित ने अपने चचिया ससुर से रुपए मांगे तो आरोपी मारपीट पर उतारू हो गया और जान से मारने की भी धमकी दी। इतना ही नहीं आरोप ने दामाद को ढकेल दिया, जिससे वह चोटिल हो गया। अब पीड़ित ने सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

दो साल पहले लिए थे रुपए

अलीगढ़ के सराय दीनदयाल निवासी राधेश्याम यादव ने बताया कि वह पेशे से एडवोकेट हैं और बुजुर्ग व्यक्ति हैं। उन्होंने बताया कि दो साल पहले उनके चचिया ससुर कासगंज से अलीगढ़ आए थे और उन्हें अपनी परेशानी बताकर 60 हजार रुपए मांगे थे।

रिश्तेदारी को देखते हुए उन्होंने अपने चचिया ससुर विजय पाल सिंह पुत्र शंकर सिंह थाना सोरो कासगंज को अलीगढ़ में रुपए दिए। उस समय आरोपी ने तीन महीने के अंदर रुपए वापस कर देने का वादा किया था। लेकिन दो साल तक उन्होंने रुपए नहीं लौटाए।

दो साल बाद बीते दिनों जब आरोपी अलीगढ़ आए तो पीड़ित ने उनसे अपने रुपए मांगे। जिसके बाद आरोपी ने उन्हें ढकेल दिया और गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी। जिसके बाद पीड़ित ने अब मुकदमा दर्ज कराया है।

बुजुर्ग के लगी गंभीर चोटें, जांच में जुटी पुलिस

पीड़ित एडवोकेट राधेश्याम ने बताया कि आरोपी 10 जून को अलीगढ़ आया था और रुपए मांगने पर उन्हें ढ़केल दिया। जिससे उन्हें काफी चोटें आई और वह घर पर इलाज कराते रहे। इसी कारण तुरंत अपनी शिकायत नहीं दर्ज करा पाए। वहीं पुलिस ने अब मुकदमा दर्ज कर लिया है।

इंस्पेक्टर प्रवेश कुमार राणा ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और मामले की जांच की जा रही है। जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।