अलीगढ़ में एलर्ट जारी, सड़क पर पैदल घूमे डीएम-एसएसपी:प्रदेश में हुई हिंसा के बाद अलीगढ़ में भी प्रशासन एलर्ट, अलीगढ़ में भी हुई थी नारेबाजी

अलीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीएम व एसएसपी ने मुस्लिम बाहुल्य व मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में की पैदल गश्त - Dainik Bhaskar
डीएम व एसएसपी ने मुस्लिम बाहुल्य व मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में की पैदल गश्त

प्रदेश के विभिन्न जिलों में जुमे को हुई हिंसा के बाद अलीगढ़ में पुलिस प्रशासन लगातार एलर्ट है। चप्पे चप्पे पर पुलिस अपनी पैनी निगाह बनाए हुए है और हर एक संदिग्ध गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। जिले में स्थिति शांतिपूर्ण रहे, इसके लिए डीएम एसएसपी शनिवार को सड़क पर उतरे और पैदल गश्त किया।

जिले के डीएम इंद्र विक्रम सिंह ने गुरुवार शाम को ही अलीगढ़ में चार्ज लिया है और इसके बाद से लगातार मुस्तैदी बनाए हुए हैं। शनिवार को जन सुनवाई करने के बाद डीएम व एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में पुलिस फोर्स के साथ पैदल गश्त की। इस दौरान इलाके के मौजिज लोगों से बात करके उन्होंने शांति बनाए रखने की अपील भी की।

अलीगढ़ के अकराबाद में जुमे की नमाज के बाद हुई थी नारेबाजी
अलीगढ़ के अकराबाद में जुमे की नमाज के बाद हुई थी नारेबाजी

सिविल लाइंस क्षेत्र में की पैदल गश्त

अलीगढ़ में शुक्रवार का दिन शांतिपूर्ण रहा था और शाही जामा मस्जिद में नमाजियों ने पूरे अमन के साथ नमाज अदा की थी। लेकिन अकराबाद क्षेत्र में कुछ लोगों ने नारेबाजी और अल्लाह हू अकबर के नारे लगाकर नुपुर शर्मा की गिरफ्तारी और फांसी की मांग की थी। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें खदेड़कर शांत कराया था।

ऐसे में जिला प्रशासन इस मामले को बिल्कुल भी हल्के में नहीं ले रहा है और प्रदेश के हालात को देखते हुए लगातार एलर्ट है। दोनों अधिकारियों ने सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में पैदल गश्त की। पुलिस फोर्स के साथ अधिकारियों ने जमालपुर, धौर्रा माफी, जीवनगढ़ और क्वार्सी क्षेत्र के मिश्रित व मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों का निरीक्षण किया।

दोनों अधिकारियों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि किसी भी अराजक तत्व को बक्शा नहीं जाएगा
दोनों अधिकारियों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि किसी भी अराजक तत्व को बक्शा नहीं जाएगा

माहौल बिगाड़ने वालों पर लगेगी NSA

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि संवेदनशील इलाकों में नजर रखने के साथ ही पुलिस सोशल मीडिया पर भी बराबर नजर बनाए हुए है। किसी व्यक्ति ने सोशल मीडिया पर भड़काऊ बयानबाजी की, विवादित पोस्ट, फोटो, वीडियो अपलोड करता है या इसे शेयर कराता है या ऐसी कोई आपत्ति जनक सामग्री पोस्ट करता है, जिससे शांति व्यवस्था भंग होती है तो उसके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

आरोपी के खिलाफ धारा 505/153A/295A /298 के तहत मुकदमा दर्ज किया जाएगा और NSA तक की कार्यवाही की जा सकती है। इसलिए आमजनो किसी के बहकावे में बिल्कुल भी न आएं और कोई व्यक्ति माहौल खराब करने की कोशिश करता है तो तत्काल इसकी जानकारी पुलिस व अधिकारियों को दें। उन्होंने बताया कि गड़बड़ी करने वाले किसी व्यक्ति को बिल्कुल भी बक्शा नहीं जाएगा।

खबरें और भी हैं...