• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Aligarh
  • Aligarh's Police Station Quarsi Case, The Victim Is Living In The Maternal House For Three Years, The Court Had Ordered To Give 12 Thousand Months

पत्नी को गुजारा भत्ता न देना पड़े, इसलिए मारी गोली:कोर्ट ने हर महीने 12 हजार रुपए देने के आदेश दिए थे

अलीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पति से अलग होने के बाद बेबी अपनी मां मक्खो के साथ तालानगरी स्थित एक फैक्ट्री में काम करती है। - Dainik Bhaskar
पति से अलग होने के बाद बेबी अपनी मां मक्खो के साथ तालानगरी स्थित एक फैक्ट्री में काम करती है।

अलीगढ़ में पत्नी को हर महीने गुजारा भत्ता न देना पड़े, इसलिए पति ने सोमवार रात को पत्नी को जान से मारने की कोशिश की। आरोपी ने अपने साथियों के साथ अपनी पत्नी और सास के ऊपर हमला कर दिया और तमंचे से गोली चला दी। इसके बाद उसने चाकू से भी दोनों के ऊपर कई वार किए। जिससे पीड़ित महिला घायल हो गई। गोली चलने से इलाके में बीच चौराहे गोली चलने से अफरा तफरी मच गई।

वहां मौजूद कुछ लोगों ने हिम्मत जुटाकर आरोपी को पकड़ लिया। पब्लिक ने आरोपी की धुनाई कर दी और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची क्वार्सी पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू की और दोनों महिलाओं को पं. दीनदयाल संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया।

कोर्ट ने हर माह 12 हजार देने के दिए हैं आदेश

क्वार्सी थाना क्षेत्र के रजा नगर निवासी बेबी पुत्री रियाजुद्दीन की शादी वर्ष 2015 में क्वार्सी के मौलाना आजाद नगर निवासी आसिफ उर्फ शेरू के साथ हुई थी। लेकिन शादी के बाद से ही अक्सर दहेज को लेकर पति और ससुराल पक्ष के लोग बेबी के साथ मारपीट करने लगे।

जिसके बाद बेबी अपने दोनों बच्चों कशिश और अरशद के साथ पिता रियाजुद्दीन के घर आकर रहने लगी और पति पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा किया था। जिसके बाद कोर्ट ने एक साल पहले आसिर्फ के खिलाफ निर्णय देते हुए उसे हर माह पत्नी को 12 हजार रुपए गुजारा भत्ता देने के आदेश दिए थे। लेकिन वह रुपए नहीं दे रहा था और सोमवार रात इस घटना को अंजाम दे दिया।

फैक्ट्री से लौट रही थी दोनों मां बेटी

पति से अलग होने के बाद बेबी अपनी मां मक्खो के साथ तालानगरी स्थित एक फैक्ट्री में काम करती है। सोमवार रात वह काम पूरा करने के बाद अपनी मां के साथ घर लौट रही थी। क्वार्सी चौराहे के पास वह टेंपो से उतरी और दोनों रजा नगर की ओर पैदल जाने लगी।

तभी कमिश्नरी के सामने आरोपी पति आसिफ वहां आ गया और अपने साथियों के साथ हमला कर दिया। उसने तमंचे से फायर किया तो इसके छर्रे बेबी के चेहरे पर लगे। जिसके बाद उसने चाकुओं से वार करना शुरू कर दिया। जब सास ने बचाने की कोशिश की तो उसने उसके ऊपर भी वार कर दिए।

आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस कर रही पूछताछ

क्वार्सी इंस्पेक्टर विजय सिंह ने बताया कि लोगों की सहायता से आरोपी आसिफ को पकड़ लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। दोनों घायल महिलाओं को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। पीड़ित पक्ष की ओर से अभी तहरीर नहीं आई है। उन्होंने बताया कि तहरीर आने के बाद उसके आधार पर मुकदमा दर्ज कर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...