गर्भवती बहू को मारपीट कर घर निकाला:अलीगढ़ में 4 लाख रुपए और गहनों के लिए ससुराल वालों ने पीटा, केस दर्ज

अलीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़िता की तहरीर पर टप्पल पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। - Dainik Bhaskar
पीड़िता की तहरीर पर टप्पल पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

अलीगढ़ के टप्पल थाना क्षेत्र में चार लाख रुपए और गहनों के लिए गर्भवती महिला को पीटकर घर से निकालने का मामला सामने आया है। महिला का आरोप है कि जब वह गर्भवती हुई तो ससुराल वालों ने उसे घर से निकाल दिया और उसे मायके भेज दिया। जिसके बाद महिला ने बेटे को जन्म दिया। इसके बाद जब वह अपने ससुराल पहुंची तो ससुराल के लोगों ने दोबारा उसके साथ मारपीट की और उसे घर से निकाल दिया। ससुराल वालों का कहना था कि जब तक वह रुपए लेकर नहीं आएगी, उसे घर में नहीं आने दिया जाएगा। इसके बाद ससुराल वालों ने महिला को दोबारा भगा दिया। ससुराल वालों से तंग आकर पीड़ित महिला ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

तीन साल पहले हुआ था विवाह

टप्पल थाना क्षेत्र निवासी पीड़िता ने बताया कि उसका विवाह 18 जनवरी 2019 को हरियाणा के पलवल के थाना हसनपुर के गांव पिंगौड़ निवासी जगदीश पुत्र नामा के साथ हुई थी। शादी के समय उसके परिवार में अपनी हैसियत के अनुसार पांच लाख रुपए खर्च किए थे और दान दहेज दिया था। लेकिन शादी के बाद ससुराल वालों ने फिर दहेज की मांग शुरू कर दी। इसके साथ उन्होंने उसे मारना पीटना शुरू कर दिया। जब ससुराल वालों को यह पता चला कि वह गर्भवती है तो उसे मायके भेज दिया और कहा कि उनके पास उसका खर्च उठाने के लिए रुपए नहीं हैं। तकरीबन 11 महीने बाद जब वह अपने बेटे के साथ वापस गई तो उसे पीटकर भगा दिया।

पति समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

पीड़िता की तहरीर पर टप्पल थाना पुलिस ने पति समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसमें पुलिस ने पति जगदीश, सास रजावती, देवर गौरव व सौरव और ददिया ससुर महरचंद के खिलाफ मारपीट और दहेज उत्पीड़न की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

पुलिस ने शुरू की जांच

टप्पल थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर ससुराल वालों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपी हरियाणा के रहने वाले हैं। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...