अफवाहों पर ध्यान न दें, पुलिस को तुरंत दें सूचना:अलीगढ़ में शांतिपूर्ण माहौल बनाए रखने के लिए डीएम एसएसपी ने धर्म गुरुओं संग की बैठक

अलीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कलेक्ट्रेट में धर्मगुरुओं की बैठक लेती जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे व एसससपी कलानिधि नैथानी - Dainik Bhaskar
कलेक्ट्रेट में धर्मगुरुओं की बैठक लेती जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे व एसससपी कलानिधि नैथानी

आपसी भाईचारा और प्रेम सबसे ऊपर है। इसलिए जिले में सभी लोग आपस में मिल जुलकर रहें और किसी तरह की अफवाह पर बिल्कुल भी ध्यान न दें। अगर कोई व्यक्ति अफवाह उड़ाता है या कोई संदिग्ध नजर आता है, जो जिले की शांति व कानून व्यवस्था के लिए संकट बन सकता है तो इसकी जानकारी तुरंत पुलिस को दें। यह बात जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे ने शहर के धर्मगुरुओं से कही। आगामी त्योहारों से पहले कलेक्ट्रेट में बैठक हुई और धर्म गुरुओं से शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग की अपील की गई। उन्हें आश्वासन दिलाया गया कि अगर कोर्इ भी व्यक्ति प्रशासन को कोई सूचना देगा तो उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा।

बुजुर्ग युवाओं को दिखाएं सही राह

बैठक में मौजूद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने भी सभी को संबोधित किया और शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि बुजुर्ग युवाओं का मार्गदर्शन करें और उन्हें सही मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करें। युवाओं को समझाया जाए कि किसी तरह की अफवाह या बहकावे में आकर कोई गलत कदम न उठाएं। क्योंकि एक बार कानूनी कार्रवाई होने पर उनका पूरा भविष्य खराब हो सकता है। इसलिए वह पढ़ाई लिखाई करते हुए अपना भविष्य संवारे। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन के दरवाजे हमेशा आमजनों के लिए खुले हुए हैं और लोग कभी भी तरह की परेशानी होने पर तत्काल पुलिस से संपर्क कर सकते हैं।

बैठक में मौजूद विभिन्न समुदायों के प्रतिनिधि
बैठक में मौजूद विभिन्न समुदायों के प्रतिनिधि

भड़काऊ भाषण या पोस्ट शेयर की तो होगी एफआर्इआर

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने विभिन्न समुदायों के प्रबुद्धजनों, मौलवियों, पुजारियों, मुतवल्लियों एवं धर्मगुरूओं के साथ शान्ति समिति की बैठक की। उन्होंने शान्ति एवं अमन-चैन की अपील करते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन आप सभी की सुरक्षा एवं शान्ति बनाए रखने के लिये है। हम सभी हर कदम पर आपके सुख-दुःख में साथ खड़े हैं।

उन्होंने कहा कि आमजन किसी तरह की भड़काऊ बयानबाजी बिल्कुल भी न करें और किसी तरह का भ्रामक प्रचार न करें। सोशल मीडिया या अन्य जगहों पर अगर इस तरह की सामग्री हो तो उस पर बिल्कुल भी प्रतिक्रिया न दें और इसकी शिकायत तुरंत पुलिस को करें। एसएसपी ने बताया कि अगर कोई भ्रामक प्रचार करता है या किसी तरह की भड़काऊ बयानबाजी करता है, जिससे शहर का माहौल खराब हो सकता है तो उसके खिलाफ तत्काल कानूनी कार्रवाई की जाएगी और मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

बैठक में एडीएम सिटी राकेश कुमार पटेल, एडीएम प्रशासन डीपी पाल, एसपी सिटी कुलदीप गुनावत, सिटी मजिस्ट्रेट प्रदीप कुमार वर्मा समेत विभिन्न अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...