संदिग्ध से एटीएस ने की पूछताछ, फिर देर रात छोड़ा:अलीगढ़ में प्रधानमंत्री की जनसभा के दौरान लोधा पुलिस ने पकड़ा था संदिग्ध, शामली का रहने वाला था युवक

अलीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थाना लोधा - Dainik Bhaskar
थाना लोधा

अलीगढ़ में मंगलवार को हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन सभा के दौरान पकड़े गए संदिग्ध से बुधवार को एटीएस व पुलिस के उच्च अधिकारियों ने घंटो पूछताछ की। जिसके बाद उसे एटीएस ने छोड़ दिया। युवक शामली का रहने वाला था और प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के दौरान संदिग्ध होने के चलते उसे गिरफ्तार किया गया था।

पीएम के कार्यक्रम में हमले की मिली थी सूचना

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर मंगलवार को पुलिस टीमों को सख्त दिशा निर्देश दिए गए थे। जिसके चलते कार्यक्रम क्षेत्र के आसपास आने वाले हर संदिग्ध पर नजर रखी जा रही थी। इसी बीच सूचना मिली कि एटीएस ने लखनऊ, प्रतापगढ़, रायबरेली व प्रयागराज में एक साथ छापामारी कर कई आतंकियों को हिरासत में ले लिया। इस बीच अफवाह उड़ गई कि अलीगढ़ में आयोजित प्रधानमंत्री की जनसभा पर हमले करने की योजना बनायी जा रही थी। इस तरह का इनपुट अलीगढ पहुंचा तो सूबे भर के अलीगढ में तैनात अफसरों ने सुरक्षा को ओर बढ़ा दी थी। कार्यक्रम स्थल के आसपास घूम रहे कुछ संदिग्धों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की तो शक होने पर एक शामली के युवक को भी हिरासत में ले लिया।

मानसिक रूप से अस्वस्थ था युवक

लोधा थाना प्रभारी गजेंद्र सिंह ने बताया कि युवक मानसिक रूप से अस्वथ्य था। मंगलवार को वह अधिकारियों को तरह तरह की बातें बताता रहा। बुधवार को युवक से दुबारा पूछताछ की गई। इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को भी दी गई। इनपुट पर उच्चाधिकारियों की टीम अलर्ट हो गई। आनन फानन में एटीएस को पूछताछ में लगाया गया। एटीएस ने उक्त युवक से दिन में दो से तीन बार कई घंटें तक पूछताछ की। लेकिन वह कुछ खास जानकारी नहीं दे सका। बाद में जब शामली जिला पुलिस से संपर्क किया गया तो मालूम हुआ कि युवक मानसिक रुप से अस्वस्थ है। देर रात पुलिस ने उसको छोड़ दिया। उक्त युवक दिन भर महकमें के लिए बड़ा सिरदर्द बना रहा।

खबरें और भी हैं...