अलीगढ़ में किसान की पिटाई के बाद मौत:जमीन के विवाद में किसान को पीटा, जान बचाने के लिए भागा और ट्रक से टकरा गया; मौत

अलीगढ़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दबंगों की पिटाई से बचने के लिए किसान भागा और सामने से आ रहे ट्रक ने कुचल दिया। - Dainik Bhaskar
दबंगों की पिटाई से बचने के लिए किसान भागा और सामने से आ रहे ट्रक ने कुचल दिया।

अलीगढ़ में जमीन के विवाद में एक किसान को पीटने का मामला सामने आया है। जिसके बाद आरोपियों से जान बचाने के लिए भागा किसान एक ट्रक की चपेट में आ गया और अपनी जान गंवा बैठा। किसान के रिश्तेदारों ने नामजद आरोपियों के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी है।

दबंगों से जान बचाकर भागा और ट्रक से टकरा गया
जानकारी के अनुसार मूल रूप से हाथरस के सिकंदराराऊ थाना क्षेत्र निवासी मुकेश यादव (35) पिछले 6 महीने से अलीगढ़ में अपनी बहन के घर पर रह रहा था। अलीगढ़ में रहकर युवा मेहनत मजदूरी करके अपना गुजर बसर कर रहा था। मृतक की भांजी राखी यादव ने बताया कि उसके मामा मुकेश का विवाद कुछ लोगों से चल रहा था।

आज सुबह 11 बजे वह पशुओं को लेकर खेतों की ओर गया था। इसी बीच चार-पांच लोगों ने उसे घेर लिया और मारपीट शुरू कर दी। अकेला होने के कारण मुकेश दबंगों से जान बचाकर सड़क की ओर भागे, इस दौरान वह सामने से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आ गए। जिसके कारण मौके पर ही उनकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची महुआखेड़ा थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस कर रही मारपीट की घटना से इनकार
एक ओर परिजन किसान के साथ मारपीट होने का दावा कर रहे हैं। उनका कहना है कि पास ही सीसीटीवी में यह सारी घटना कैद भी हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर महुआ खेड़ा थाना प्रभारी विनोद सिंह ने बताया कि मारपीट जैसी कोई बात नहीं है।

थाना प्रभारी का कहना है कि किसान अपने पशु लेकर जा रहा था और ट्रक से टकराकर उसकी मौत हो गई। हालांकि इस मामले में पुलिस के उच्च अधिकारियों ने मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। जिसके बाद मामले की जांच की जाएगी।