आय ज्यादा है तो निरस्त होंगे राशनकार्ड:तीन लाख रुपए से अधिक के गेहूं व धान बेंचने वाले किसान पात्र गृहस्थी कार्ड के लिए नहीं हैं पात्र

अलीगढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के राशन कार्ड - Dainik Bhaskar
खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के राशन कार्ड

तीन लाख रुपए से ज्यादा की सालाना आय रखने वाले किसानों के राशन कार्ड निरस्त किए जाएंगे। शासन के निर्देशानुसार जिले में ऐसे किसानों का सर्वे किया जा रहा है, जिन्होंने गेहूं और धान की बिक्री करके सालाना तीन लाख रुपए से ज्यादा की आमदनी की है। जिन किसानों की आमदनी तीन लाख या इससे ज्यादा पाई जाएगी, उसके पात्र गृहस्थी कार्ड (पीएचएच) निरस्त कर दिए जाएंगे। इसके लिए विभाग ऐसे किसानों की जांच करा रहा है।

पूरे प्रदेश में 12 हजार गरीबी रेखा से ऊपर

शासन की ओर से पूरे प्रदेश में सर्वे कराकर लगभग 12 हजार किसानों को गरीबी रेखा के ऊपर पाया था। यह सभी ऐसे किसान हैं, जिन्होंने साल में गेहूं और धान बेंचने से तीन लाख रुपए या इससे अधिक रुपए की आमदनी की है। जिसके कारण यह किसान पात्र गृहस्थी कार्ड की पात्रता को पूरा नहीं करते हैं। राज्य स्तर पर तैयार की गई इस सूची में अलीगढ़ के भी 150 किसान शामिल थे। जिसके बाद अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए थे।

कार्ड से मिलती हैं विभिन्न सुविधाएं

पात्र गृहस्थी कार्ड धारक किसानों को गरीबी रेखा के नीचे आने वाले राशन कार्ड धारकों को मिलने वाली विभिन्न सुविधाएं दी जाती हैं। जिससे कि वह अपने और अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें। सरकार की ओर से समय समय पर इन्हें इसी कार्ड के माध्यम से विभिन्न योजनाओं के लाभ भी प्रदान किए जाते हैं। लेकिन आर्थिक रूप से समर्थ किसान इसकी पात्रता से बाहर हैं।

जांच रिपोर्ट के बाद निरस्त किए जाएंगे कार्ड

डीएसओ राजेश कुमार सोनी ने बताया कि तीन लाख तक की आय रखने वाले ही पात्र गृहस्थी कार्ड पाने के पात्र हैं। शासन ने प्रशासन व आपूर्ति विभाग को जिलावार अपात्रों की सूची भेजी है। शासन से सूची आने के बाद सप्लाई इंस्पेक्टर को सभी की जांच सौंपी गई है और उनकी आय आंकी जा रही है। जांच रिपोर्ट आने के बाद यह रिपोर्ट प्रशासन के माध्यम से शासन को भेज दी जाएगी। जिसके बाद सभी अपात्रों के राशन कार्ड निरस्त कर दिए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...