भाजपा नेता को पकड़ने अलीगढ़ आई बंगाल पुलिस को पीटा:2017 में भाजपा नेता ने की थी बंगाल CM पर अभद्र टिप्पणी, पकड़ने सादे कपड़ों में पहुंची बंगाल पुलिस, भड़के कार्यकर्ताओं ने पीटा

अलीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भाजपा नेता के घर सादे कपड़ों में पहुंची बंगाल पुलिस। - Dainik Bhaskar
भाजपा नेता के घर सादे कपड़ों में पहुंची बंगाल पुलिस।

अलीगढ़ के भाजपा नेता योगेश वार्ष्णेय को गिरफ्तार करने बंगाल पुलिस टीम शुक्रवार को उसके घर पहुंची। इस दौरान भारी संख्या में भाजपा नेता के समर्थकों ने बंगाल पुलिस टीम को पकड़ लिया और उनकी पिटाई कर दी। जिसके बाद जमकर हंगामा हुआ। सांसद सतीश गौतम, विधायक संजीव राजा, विधायक अनिल पराशर समेत भाजपा के विभिन्न वरिष्ठ नेता मौके पर पहुंच गए।

हंगामे की सूचना मिलने पर स्थानीय गांधी पार्क पुलिस भी मौके पर पहुंची और सभी को थाने ले आई। जिसके बाद भाजपाइयों ने थाने में भी जमकर हंगामा किया। बता दें, 2017 में भाजपा नेता ने बंगाल CM पर अभद्र टिप्पणी की थी। जिसका बंगाल में मुकदमा भी दर्ज हुआ था। उसी के चलते भाजपा नेता को गिरफ्तार करने पुलिस पहुंची थी।

बंगाल सीएम का सिर कलम करके लाने वाले को 50 हजार ईनाम
अलीगढ़ के गांधीनगर निवासी भाजपा नेता योगेश वार्ष्णेय ने 2017 में पश्चिम बंगाल सीएम ममता बनर्जी के खिलाफ टिप्पणी की थी। कहा था कि जो भी उनका सिर काटकर लाएगा, उसे 50 हजार रुपए का ईनाम दिया जाएगा। इस आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद भाजपा नेता योगेश वार्ष्णेय के खिलाफ पश्चिम बंगाल में मुकदमा दर्ज किया गया।

मौके पर पहुंची पुलिस सभी को थाने ले गई।
मौके पर पहुंची पुलिस सभी को थाने ले गई।

सिविल ड्रेस में थी बंगाल पुलिस
भाजपा नेता को पकड़ने के लिए बंगाल पुलिस के दो कर्मचारी सुवासीब दत्त और आलमगीर इस्लाम सिविल ड्रेस में उसके घर पहुंचे थे। उनके साथ गांधी पार्क थाने के दो सिपाही भी मौजूद थे। जब वह उनके घर पहुंचे और भाजपा नेता को बुलाया तो उसके समर्थकों ने सभी को चारों ओर से घेर लिया। देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में लोग एकत्रित हो गए और उन्होंने बंगाल पुलिस के कर्मचारियों को बंधक बना लिया। उनकी पिटाई कर दी।

पहले भी आ चुकी है बंगाल पुलिस
भाजपा नेता को पकड़ने के लिए लगभग 6 महीने पहले भी बंगाल पुलिस टीम शहर आई थी। उस समय भाजपा नेता को कहीं से इसकी भनक लग गई थी, जिसके बाद वह घर से फरार हो गया था। उस समय बंगाल पुलिस को खाली हाथ ही वापस लौटना पड़ा था। दोबारा बंगाल पुलिस भाजपा नेता को गिरफ्तार करने अलीगढ़ आई और देर शाम उसके घर पहुंची। जिसके बाद यह विवाद बढ़ गया।

भाजपा नेता की मां ने भी दी तहरीर
उधर, भाजपा नेता योगेश की मां पूनम वार्ष्णेय ने गांधी पार्क थाने में तहरीर दी है। उन्होंने आरोप लगाया कि शुक्रवार शाम दो व्यक्ति उनके घर पर आए और गाली-गलौज करने लगे। इसके बाद उनके मोहल्ले की पार्षद अल्का गुप्ता वहां आ गई तो दोनों ने उनके साथ भी गाली-गलौज की। बदसलूकी करने का प्रयास किया। इसके साथ ही दोनों युवकों ने 15 हजार रुपए और सोने की चेन छीन ली। जिसके बाद मोहल्ले के लोग जमा हो गए और उन्होंने दोनों आरोपियों को पकड़ लिया।

घटना से इलाके में पुलिस तैनात।
घटना से इलाके में पुलिस तैनात।

भाजपाइयों ने किया थाने का घेराव
मौके पर पहुंची गांधी पार्क पुलिस सभी को थाने ले आई। जिसके बाद भाजपाई थाने पहुंच गए और जमकर हंगामा किया। इस दौरान भाजपा के महानगर अध्यक्ष विवेक सारस्वत, भाजपा के जिला प्रवक्ता निशित शर्मा समेत विभिन्न भाजपाई थाने पहुंच गए और इस घटना का विरोध किया। काफी देर बातचीत चलने के बाद पुलिस ने उन्हें शांत कराया।

भाजपाइयों ने लगाया अभद्रता का आरोप
भाजपा के महानगर अध्यक्ष विवेक सारस्वत ने बताया कि बंगाल पुलिस अलीगढ़ आई और उन्होंने थाने में कोई आमद दर्ज नहीं कराई। चौकी से पुलिस कर्मियों को लेकर सीधे कार्यकर्ता के घर पहुंच गए और भाजपा नेता की उनकी मां से अभद्रता की। इसके साथ ही उन्होंने वार्ड पार्षद अल्का गुप्ता व अन्य लोगों के साथ भी अभद्रता की। उन्होंने कहा कि इलाके के लोगों ने भी तहरीर दी है और कार्रवाई की मांग की जा रही है।

सीओ बोले, बंगाल टीम को सकुशल लाए थाने
सीओ द्वितीय मोहसिन खान ने बताया कि बंगाल पुलिस एक मामले में अलीगढ़ आई थी और वह सादे कपड़ों में भाजपा नेता के घर पहुंच गई। यहां उनकी स्थानीय लोगों के साथ कुछ अनबन हुई है। सूचना मिलने पर क्षेत्रिय पुलिस मौके पर पहुंच गई और बंगाल पुलिस की टीम को सकुशल थाने ले आया गया है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है, जिसके बाद आगे की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

खबरें और भी हैं...