मुस्लिम महिला टीचर के तिलक करने का विरोध:कट्‌टरपंथी बोले- इनका ईमान मर गया है; टीचर का जवाब- मेरा धर्म बच्चों को अच्छी शिक्षा देना

अलीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अलीगढ़ में एक मुस्लिम टीचर ने ब्लॉक शिक्षा अधिकारी यानी BEO का स्वागत तिलक लगा कर किया। मगर, वह कट्‌टरपंथियों के निशाने पर आ गईं। सोशल मीडिया ग्रुप्स पर टीचर के खिलाफ आपत्तिजनक कमेंट किए जा रहे हैं। महिला टीचर ने परेशान होकर बेसिक शिक्षा अधिकारी यानी BSA से इसकी शिकायत की है। इसके बाद BSA ने जांच बैठा दी है।

स्वागत में मुस्लिम टीचर ने किया था तिलक
अलीगढ़ के जवां ब्लाक में 15 जून को नए BEO सतीश चंद्र मिश्रा ने जॉइन किया था। उनका स्वागत हिंदू रीतियों से किया गया। वरिष्ठ होने की वजह से जवां ब्लॉक की हेडमास्टर ताहिरा ने उनका तिलक भी किया। जब इसकी फोटो कार्यालय के बाहर पहुंची, तो कुछ विभाग के कट्‌टरपंथी शिक्षकों ने विरोध करना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं, उन्होंने टीचर को अपमानित भी किया। कट्‌टरपंथियों ने यह कहना शुरू कर दिया कि महिला टीचर शिक्षिका का ईमान मर गया है।

वॉट्सऐप ग्रुप पर तिलक करने वाली टीचर ताहिरा के खिलाफ ऐसी बातें लिखी गई हैं। यह वायरल हो रहा है।
वॉट्सऐप ग्रुप पर तिलक करने वाली टीचर ताहिरा के खिलाफ ऐसी बातें लिखी गई हैं। यह वायरल हो रहा है।

शिक्षिका बोली- मेरा धर्म बच्चों को पढ़ाना है
टीचर ताहिरा ने कट्‌टरपंथियों को जवाब भी दिया है। उनका​ का कहना है, ‘‘मैं एक टीचर हूं। मेरा धर्म बच्चों को अच्छी शिक्षा देना है। एकता का संदेश देते हुए उन्हें एक अच्छा इंसान बनाना है। अगर मैं अपने मन में इस तरह की बातें रखूंगी, तो बच्चों को कभी अच्छी शिक्षा नहीं दे सकती।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस तरह की टिप्पणियों से बिल्कुल भी परेशान नहीं होउंगी। अपना काम बेहतर तरीके से करती रहूंगी।’’

यह टीचर ताहिरा का वॉट्सऐप प्रोफाइल फोटो है। उनका कहना है, ‘‘मैं इस तरह की टिप्पणियों से बिल्कुल भी परेशान नहीं होउंगी।’’
यह टीचर ताहिरा का वॉट्सऐप प्रोफाइल फोटो है। उनका कहना है, ‘‘मैं इस तरह की टिप्पणियों से बिल्कुल भी परेशान नहीं होउंगी।’’

‘‘शिक्षकों को नहीं शोभा देती ऐसी टिप्पणियां’’
उत्तर प्रदेशीय जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष डॉ. प्रशांत शर्मा ने कहा, ‘‘ऐसी टिप्पणियां टीचरों को शोभा नहीं देती हैं। टीचर का दायित्व जाति-धर्म को पीछे छोड़कर छोटे बच्चों को एकता का पाठ पढ़ाते हुए अच्छी शिक्षा देना है। इस तरह की घटनाएं इमेज खराब करती हैं। इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।’’​​​​

BSA ने शुरू की जांच
BSA सत्येंद्र कुमार ढाका ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में है। मामले की जांच बीईओ को सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि जांच में अगर आरोपी शिक्षक दोषी पाए गए, तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...