जयंत चौधरी ने भाजपा पर साधा निशाना:अलीगढ़ में बोले-लखीमपुर की घटना किसी आतंकवादी वारदात से कम नहीं, CM योगी अपने मंत्रियों को गिरफ्तार कराकर उनका इस्तीफा लें

अलीगढ़19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जयंत चौधरी ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था लगातार बिगड़ रही है। - Dainik Bhaskar
जयंत चौधरी ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था लगातार बिगड़ रही है।

राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) के अध्यक्ष जयंत चौधरी गुरुवार को अलीगढ़ पहुंचे। यहां उन्होंने लखीमपुर खीरी की घटना को लेकर भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि लखीमपुर खीरी में हुई घटना बहुत दर्दनाक है। यह किसी आतंकवादी घटना से कम नहीं है। प्रदेश की सरकार को दोषियों के खिलाफ आतंकवादियों के लिए बने कानून के तहत कार्रवाई करनी चाहिए। योगी सरकार अपने आरोपी मंत्रियों की तुरंत गिरफ्तारी कराकर उनसे इस्तीफा लें। प्रदेश की कानून व्यवस्था लगातार बिगड़ रही है।

पार्टी के मंत्री दोषी हैं तो बुलडोजर क्यों नहीं चलाते योगी

उन्होंने सीएम योगी पर हमला बोलते हुए कहा कि मुख्यमंत्री कहते हैं कि अपराधियों को हम खत्म करेंगे और वह उनके घरों में बुलडोजर चलाते हैं। अब जब उनकी पार्टी के मंत्री दोषी हैं तो योगी उनके घरों में बुलडोजर क्यों नहीं चला रहे हैं। जबकि उनके ऊपर तो सख्त कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए। इसलिए मंत्री और उनके बेटे की तत्काल गिरफ्तारी की जानी चाहिए और मंत्री को बर्खास्त करना चाहिए।

विदेश में यह आतंकवादी घटना है

उन्होंने कहा कि जब विदेश में निहत्थे नागरिकों पर गाड़ी से हमला होता है तो यह आतंकवादी घटना के अंतर्गत गिना जाता है। इसी के तहत आरोपियों पर कार्रवाई भी होती है। अब जब भाजपा के राज में ऐसा हो रहा है तो सरकार दोषियों पर कार्रवाई करने से पीछे क्यों हट रही है।

योगी नहीं चाहते कि हम किसान के बीच जाएं

लखीमपुर जाने से रोकने पर जयंत ने कहा कि सीएम योगी नहीं चाहते कि वह जनता के बीच पहुंचे। इसीलिए उन्हें वहां जाने से रोका जा रहा है। वहीं राहुल गांधी व प्रियंका गांधी के लखीमपुर खीरी पहुंचने पर उन्होंने कहा कि किसान सभी के हैं, इसलिए हर नेता को उनके पास जाकर उनका दुख जरूर बांटना चाहिए। उन्होंने बताया कि राकेश टिकैट ने पंचायत में कुछ निर्णय लिए हैं, जो किसानों के लिए हैं।

फूल माला नहीं पहनेंगे, पगड़ी मेरी जिम्मेदारी

उन्होंने फूल माला न पहनने के मुद्दे पर कहा कि यह निर्णय उनका है कि वह फूल माला से अपना स्वागत नहीं कराएंगे और न ही फूल माला पहनेगे। लेकिन उनके पिता चौ. अजित सिंह के निधन के बाद पगड़ी उन्हें पहनाई गई, जो एक जिम्मेदारी है। इसलिए जब कोई उन्हें पगड़ी पहनाता है तो वह इसे स्वीकार करते हैं।

किसानों को 12 हजार देने का किया ऐलान

जयंत ने आज अलीगढ़ में सभा में कहा कि भाजपा सरकार किसानों के दर्द को नहीं समझती है। अब समय आ गया है कि किसान चौ. अजित सिंह की पगड़ी को संभाल ले और अपनी सरकार बनाएं। उन्होंने कहा कि ऐसी सरकार से बचना होगा। उन्होंने भाजपा सरकार की पीएम सम्मान निधि की तर्ज पर घोषणा करते हुए कहा कि उनकी सरकार बनने के बाद किसानों को चौ. चरण सिंह कृषक सम्मान योजना में किसानों को 12 हजार रुपए दिए जाएंगे।

लखीमपुर के गुनहगारों की अमित शाह थपथपा रहे पीठ

जयंत ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर भी निशाना साधा और कहा कि अमित शाह लखीमपुर के गुनहगारों की पीठ थपथपा रहे हैं। उन्होंने गुनहगार मंत्री को तलब किया, लेकिन उनकी पीठ थपथपा दी। किसानों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा करना चाह रहा था लेकिन लखीमपुर खीरी प्रकरण के बाद फैसला बदल लिया लेकिन सरकार बनती है तो किसानों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा जरूर की जाएगी।

योगी-मोदी सरकार रही तो कुंवारे रह जाओगे

उन्होंने सीएम योगी और पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर अब योगी मोदी की सरकार और ज्यादा दिन तक रही तो सभी कुंवारे ही रह जाएंगे। क्योंकि प्रदेश में लगातार अपराध बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज सरकार कहती है कि भ्रष्टाचार रोकने के लिए थानों में कैमरे लगे हैं, लेकिन अब जो डीलिंग होती है वह थाने के बराबर में चल रहे खोखों पर होती है। यूपी सरकार प्रचार के लिए प्रदेश का पैसा केरल में बर्बाद कर रही है। आमजनों की सुविधाओं के लिए सरकार कुछ भी नहीं कर रही है।

ये लोग रहे मौजूद

आशीर्वाद सभा के दौरान बड़ी संख्या में किसान शामिल हुए। उनके मनोरंजन के लिए कार्यक्रम में रागिनी की व्यवस्था भी की गई थी, जिसमें किसान झूमते नाचते नजर आए। वहीं दूसरी ओर युवाओं से लेकर बुजुर्गों तक में जोश नजर आया। बड़ी संख्या में लोग जयंत की सभा में पहुंचे। वहीं पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं में अब्दुल्ला शेरवानी, नीरज शर्मा, वीरपाल दिवाकर, कालीचरण समेत बड़ी संख्या में पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...