अलीगढ़ के दिनेश सीआरपीएफ के डीआईजी बने:जीआईसी और एएमयू से की है पढ़ाई, बतौर सहायक कमांडेंट CRPF में शुरू की थी सेवा

अलीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अलीगढ़ के गूलर रोड निवासी दिनेश कुमार सिंह को डीआईजी सीआरपीएफ प्रोन्नत किय गया है। - Dainik Bhaskar
अलीगढ़ के गूलर रोड निवासी दिनेश कुमार सिंह को डीआईजी सीआरपीएफ प्रोन्नत किय गया है।

अलीगढ़ के होनहारों ने एक बार फिर जिले का नाम रोशन किया है। शहर में गूलर रोड के रहने वाले दिनेश कुमार सिंह को सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) में बतौर डीआईजी प्रोन्नत किया गया हैं। अभी तक दिनेश रामपुर में कमांडेंट के तौर पर तैनात थे। जिसके बाद उन्हें पदोन्नति मिली है।

प्रोन्नति के बाद भी सरकार ने उन्हें रामपुर में ही तैनाती दी है। वहीं दिनेश की प्रोन्नति होने के बाद अलीगढ़ में जश्न का माहौल है, वहीं दूसरी ओर सीआरपीएफ की आरएएफ बटालियन में भी खुशियां मनाई गई। इस मौके पर RAF कमांडेंट अलीगढ़ अजय शर्मा, CRPF कमांडेंट सेक्टर ऑफिस देहरादून अनिल ध्यानी और डिप्टी कमांडेंट बलदेव सिंह ने उन्हें बधाई दी।

नौरंगीलाल से पास की है इंटरमीडिएट

गूलर रोड निवासी दिनेश कुमार सिंह ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई नौरंगीलाल राजकीय इंटर कालेज से की है। उन्होंने नौरंगीलाल से इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्याल में इतिहासकार इरफान हबीब के सान्निध्य में बीए ऑनर्स और फिर 1989-91 तक एम राजनीति शास्त्र की पढ़ाई की।

पढ़ाई पूरी होने के बाद 1993 में दिनेश बतौर सहायक कमांडेंट (DSP), सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स में भर्ती हुए। पहली तैनाती उन्हें नागालैंड में मिली। तब से वह निरंतर देश की सेवा में जुटे हुए हैं। सेवा काल में उनकी ड्यूटी असम, जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़, उड़ीसा और नक्सली इलाकों में रही। जहां उन्होंने बेहतर काम करते हुए अपनी टीम का नेतृत्व किया। अब वह रामपुर में बतौर डीआईजी तैनात हैं।

गोल्फ के अच्छे खिलाड़ी हैं दिनेश

पढ़ार्इ में होनहार रहने के साथ ही दिनेश खेलकूद में भी आगे रहे हैं। कालेज के दिनों से ही उन्हें गोल्फ का शौक था। जिसके बाद सीआरपीएफ में भी उन्होंने अपने इस शौक को आगे बढ़ाया। सीआरपीएफ की तरफ से उन्होंने कई प्रतियोगिताएं खेली। जिसके बाद उन्होंने ऑल इंडिया गोल्फ टूर्नामेंट में गोल्फ की विजेता ट्रॉफी जीती।

वहीं बतौर अधिकारी भी उन्होंने देश की सेवा करते हुए बेहतर प्रदर्शन किया। नक्सली और संवेदनशील इलाकों में उन्होंने कई सराहनीय काम किए। जिसके लिए उन्हें सीआरपीएफ महानिदेशक की ओर से दो मेडल और महानिदेशक चक्र से नवाजा गया है। भारत सरकार की ओर से भी उन्हें उत्क्रष्ट सेवा के कई मेडल मिल चुके हैं।

पिता भी पुलिस में थे सेवारत

गूलर रोड निवासी दिनेश कुमार सिंह के पिता भी उत्तर प्रदेश पुलिस में थे। पिता से ही उन्हें फोर्स में जाने की प्रेरणा मिली थी। दिनेश 6 भाई हैं, जिसमें सबसे बड़े यूपी पुलिस में हैं। जबकि अन्य भाई भी प्रदेश व केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में कार्यरत हैं। एक भाई अलीगढ़ में व्यापारी हैं। 1985 में उनके पिता का निधन हो गया था, वहीं 2019 में हुआ था। 1997 से 2001 तक दिनेश ने अलीगढ़ में भी आरएएफ 104 बटालियन में अपनी सेवाएं दी हैं।

खबरें और भी हैं...