• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Aligarh
  • The Administration Had Earlier Implemented In The City, Now The System Has Been Implemented In The Entire District With Immediate Effect Till November 29.

अलीगढ़ में 29 नवंबर तक धारा 144 लागू:त्योहारों के सीजन में असामाजिक तत्व खराब कर सकते हैं माहौल, गोपनीय विभाग की रिपोर्ट पर प्रशासन ने लिया फैसला

अलीगढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेल्वा कुमारी, डीएम, अलीगढ़। - Dainik Bhaskar
सेल्वा कुमारी, डीएम, अलीगढ़।

अलीगढ़ में प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी है। पहले यह व्यवस्था सिर्फ शहरी क्षेत्र में लागू की गई थी, लेकिन त्योहारों को देखते हुए प्रशासन ने इसे पूरे जिले में 29 नवंबर तक लागू करने का निर्णय लिया है। अब कोई भी व्यक्ति एक स्थान पर भीड़ लगाकर खड़ा नहीं हो सकेगा। जिले के निवासियों के साथ ही यह व्यवस्था गैर जनपद से अलीगढ़ आने वाले लोगों पर भी लागू होगी। अगर कोई व्यक्ति इन आदेशों उल्लंघन करते हुए पाया जाएगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

असामाजिक तत्व खराब कर सकते हैं माहौल

प्रशासन की माने तो गोपनीय विभाग से मिली सूचना के अनुसार त्योहार के दिनों में असमाजिक तत्व शहर से लेकर पूरे जिले का माहौल खराब कर सकते हैं। जिसके चलते धारा 144 लागू कर दी गई है। जब यह जिले में यह व्यवस्था लागू रहेगी, तब तक धरना प्रदर्शन, रैली या इस तरह का कोई भी काम नहीं किया जा सकेगा। अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ शांति भंग व धारा 188 आईपीसी के अंतर्गत व अन्य सुसंगत अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

डीएम के निर्देश पर लागू की गई व्यवस्था

एडीएम प्रशासन डीपी पाल के अनुसार अक्टूबर और नवम्बर में नवरात्रि, दशहरा, बारावफात, दीपावली, गोवर्धन पूजा, भैया दूज, गुरु नानक जयंती, कार्तिक पूर्णिमा, गुरु तेग बहादुर शहीद दिवस आदि त्योहार हैं। वहीं वर्तमान में कोविड 19 एवं अन्य संवेदनशील कारणों से शहर की आपातिक स्थिति है। एलआईयू व अन्य माध्यमों से इनपुट मिला है कि इस अवसर पर कुछ असामाजिक तत्व जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों की शांति व्यवस्था भंग कर सकते हैं। ऐसे में जिलाधिकारी के निर्देशानुसार पूरे जिले में व्यवस्था लागू कर दी गई है। इससे पहले एडीएम सिटी राकेश पटेल ने शहरी क्षेत्र में धारा 144 लागू करने के आदेश जारी किए थे।

संवेधनशील व अति संवेदनशील इलाकों पर रहेगी नजर

जिला प्रशासन अब पूरे जिले के संवेदनशील व अति संवेदनशील इलाकों की सूची दुबारा तैयार कर रहा है। इन इलाकों पर प्रशासन व पुलिस की विशेष नजर रहेगी। इसके लिए प्रशासन की ओर से पुलिस कप्तान को भी पत्र भेजा गया है। जिसके बाद थाना वार सूची तैयार की जा रही है। यहां पुलिट टीमों के साथ सिविल ड्रेस में भी पुलिस के जरिए निगरानी की जाएगी। जिससे कि जिले की शांति व्यवस्था को कोई भंग न कर सके।