• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Aligarh
  • The Body Of The Doctor Was Found On Wednesday In Ramesh Vihar Of Police Station Quarsi, The Police Had Entered The House By Breaking The Lock.

मेडिकल ऑफीसर की हत्या कर फंदे से लटकाया था शव:पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा, थाना क्वार्सी के रमेश विहार में बुधवार को घर में मिला था डॉक्टर का शव

अलीगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डॉ आस्था अपने आरोपी पति के साथ - Dainik Bhaskar
डॉ आस्था अपने आरोपी पति के साथ

अलीगढ़ में महिला मेडिकल ऑफीसर की मौत में गुरुवार को नया खुलासा हुआ है। मेडिकल ऑफीसर की हत्या करने के बाद उसका शव फंदे से लटकाया गया था। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। हत्या के पहले डॉक्टर के साथ बुरी तरह से मारपीट की गई थी और उसके शरीर पर मारपीट के निशान भी मिले हैं। गुरुवार को डॉक्टरों के पैनल ने डॉक्टर का पोस्टमार्टम किया, जिसमें इस बात का खुलासा हुआ है। जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

बुधवार को मिला था डॉक्टर का शव

थाना क्वार्सी के रमेश विहार निवासी डॉ आस्था अग्रवाल का शव बुधवार को पुलिस को मिला था। पड़ोसियों की सूचना पर पुलिस उसके घर पहुंची थी और घर के बाहर लगा ताला तोड़कर पुलिस घर के अंदर दाखिल हुई थी। जिसके बाद महिला डॉक्टर का शव बेडरूम में फंदे से लटका हुआ मिला था। फिर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था। गुरुवार को तीन डॉक्टरों के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया, इसमें उसके साथ मारपीट करने के बाद हत्या का खुलासा हुआ है।

डॉक्टर के साथ रेप की आशंका, बनाई गई स्लाइड

पोस्टमार्टम के दौरान डॉक्टर के साथ रेप की आशंका भी जताई गई है। जिसके बाद डॉक्टर की स्लाइड बनाकर जांच के लिए भेजी गई है। पुलिस के अनुसार स्लाइड रिपोर्ट आने के बाद इस बात का खुलासा हो सकेगा। रिपोर्ट आने तक पुलिस इस बारे में कुछ भी बयान देने से बच रही है।

बहन की तहरीर पर चार के खिलाफ हुआ मुकदमा

महिला डॉक्टर की मौत के बाद उसकी बहन आकांक्षा ने चार लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। महिला डॉक्टर का उसके पति के साथ लंबे समय से विवाद चल रहा था। जिसके बाद पुलिस ने बहन की तहरीर पर पति अरुण अग्रवाल, देवर अनुज अग्रवाल, जेठ तरुण अग्रवाल और पति के दोस्त अर्पित अग्रवाल को डॉक्टर की हत्या के मामले में नामजद किया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने सारे मामले की जांच शुरू कर दी है। हालांकि आरोपी पति अभी भी पुलिस की गिरफ्त के बाहर है। वहीं पुलिस की माने तो गुरुवार को उसकी लोकेशन शहर के एटा चुंगी इलाके के आसपास मिली थी, जिसके बाद पुलिस आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।

डॉक्टर ने अपनी सहेली को भेजे थे मैसेज

पुलिस के अनुसार डॉक्टर के मोबाइल से उन्हें कुछ मैसेज प्राप्त हुए हैं। जिसमें डॉक्टर को इस बात की आशंका हो गई थी कि उनका पति उनकी हत्या करना चाहता था। जिसके बाद डॉक्टर ने अपनी एक सहेली को मैसेज किए थे कि उसका पति उसकी हत्या की प्लानिंग कर रहा था। इसलिए अगर उसे कुछ हो जाए तो उसके पति को छोड़ना नहीं और सजा जरूर दिलाना। इसके साथ ही डॉक्टर ने अपनी सहेली को यह भी कहा था कि उसके दोनों बच्चों को उसकी बहन के पास छोड़ देना। लेकिन डॉक्टर की सहेली समय रहते इन मैसेज को नहीं देख सकी। अगर वह इस मैसेज को पहले ही देख लेती तो शायद डॉक्टर की जान बच जाती।

पुलिस ने जेठ को लिया हिरासत में, पूछताछ जारी

बहन की तहरीर के बाद पुलिस आरोपियों की पकड़ में जुट गई। जिसके बाद सिविल लाइंस थाना पुलिस ने आरोपी जेठ तरुण को देर रात 11:30 बजे उसके घर से गिरफ्तार किया। बहन की तहरीर के आधार पर पुलिस ने जेठ तरुण को डॉक्टर की हत्या के मामले में नामजद किया है। देर रात जेठ को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने अपनी पूछताछ शुरू की, जो देर रात तक जारी रही।

बच्चों को चाइल्ड लाइन को सौंपा

सिविल लाइंस थाना पुलिस ने देर रात मेडिकल ऑफीसर डॉ आस्था अग्रवाल के जेठ तरुण को गिरफ्तार किया। जेठ के घर से ही डॉक्टर के दोनों बच्चे भी पुलिस को मिले। जिसके बाद पुलिस ने दोनों बच्चों को चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के सुपुर्द कर दिया है और मामले की जांच कर रही है।

शुक्रवार को होगा डॉक्टर का अंतिम संस्कार

पुलिस ने गुरुवार को महिला डॉक्टर का पोस्टमार्टम होने के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया। लेकिन गुरुवार को डॉक्टर का अंतिम संस्कार नहीं हो सका। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार डॉ आस्था की तीन बहनें और एक भाई है। भाई अमेरिका में रहता है, जो गुरुवार को नहीं आ सका। घटना की जानकारी मिलने के बाद वह यूएस से चल चुका है औ शुक्रवार को यहां पहुंचेगा। भाई के आने के बाद ही डॉक्टर का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

जल्दी ही घटना का होगा खुलासा

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में डॉक्टर की हत्या का खुलासा हुआ है। महिला डॉक्टर की गला दबाकर हत्या करने के बाद उसका शव फंदे से लटकाया गया था। उन्होंने बताया कि चार आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है और मामले की जांच जारी है। जल्दी ही घटना का पूरा खुलासा किया जाएगा और गुनहगारों को सख्त सजा दिलाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...