• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Aligarh
  • The Case Of Gonda Police Station Area Of Aligarh, The Neck Of The Neighbor's 24 year old Son Was Severed, Many People Were Injured, Then Shot Himself

चुनावी रंजिश की खुन्नस में खेला खूनी खेल:अलीगढ़ के गोंडा थाना क्षेत्र का मामला, पड़ोसी के 24 वर्षीय बेटे की काटी गर्दन, कई लोगों को किया घायल, फिर खुद को मारी गोली

अलीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कृष्ण कुमार (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
कृष्ण कुमार (फाइल फोटो)

अलीगढ़ के गोंडा थाना क्षेत्र के गांव नगला बिरखू में चुनावी रंजिश के चलते 65 वर्षीय बुजुर्ग हत्यारा बन बैठा। देर रात वह अपने पड़ोसी के घर पर सीढ़ी लगाकर चढ़ा और उसके बेटे की गर्दन पर धारदार हथियार से वार कर दिया। युवक की हत्या करने के बाद उसने घर में सो रही महिलाओं पर भी वार किए और उन्हें घायल कर दिया। इसके बाद जब उसने देखा कि वह भाग नहीं सकेगा तो जेब से तमंचा निकालकर खुद की कनपटी पर गोली मार अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। जिसके बाद मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गई।

देर रात 1:30 बजे घर के अंदर कूदा आरोपी

गांव नगला बिरखू के हीरालाल (65) पुत्र डालचंद का चुनाव के चलते अपने पड़ोसी चंद्रपाल सिंह से काफी पुराना विवाद चला आ रहा है। चुनावी रंजिश के चलते हीरालाल अपने पड़ोसी चंद्रपाल के परिवार से खुन्नस मानता था। इसी खुन्नस में देर रात 1:30 बजे वह पड़ोसी के घर में सीढ़ी लगाकर कूद गया और घटना को अंजाम दे दिया। पहले उसने चंद्रपाल सिंह के छत पर सो रहे 24 वर्षीय पुत्र कृष्ण कुमार की गर्दन पर धारदार हथियार से वार करके उसकी हत्या कर दी।

छत पर सो रही महिलाओं पर किया वार

युवक की हत्या करने के बाद आरोपी ने उसकी मां शशि देवी जो छत पर ही सो रही थी पर भी वार कर दिया, जिससे उसका हाथ कट गया। हमला होने पर महिला चिल्ला उठी, जिससे परिवार की दूसरी महिलाएं वहां आ गई। हमलावर इतने पर भी नहीं रुका और उसने उनके ऊपर भी वार कर दिए। जैसे तैसे शशि देवी वहां से भागी तो आरोपी ने तमंचे से उनके ऊपर फायर कर दिया। लेकिन परिवार के लोग बच्चों समेत कमरों में कैद हो गए। इसके बाद आरोपी सीढ़ी से उतरकर अपने घर चला गया और वहां खुद को भी तमंचे से गोली मारकर आत्महत्या कर ली।

गांव में मचा हड़कंप, मौके पर पहुंची फोर्स

फायरिंग और चीखपुकार की आवाज सुनकर गांव में हड़कंप मच गया। ग्रामीण वहां एकत्रित हो गए, जिसके बाद उन्होंने इस खूनी खेल की जानकारी पुलिस को दी। जिसके बाद मौके पर सीओ इगलास अशोक कुमार, गोंडा इंस्पेक्टर हरिभान सिंह, चौकी प्रभारी सचिन कुमार समेत बड़ी संख्या में फोर्स पहुंची। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और मामले की जांच शुरू की।

गांव में दहशत, फोर्स तैनात

देर रात हुए इस हत्याकांड के बाद गांव में दहशत फैली हुई है। इसके साथ ही पूरे गांव में भारी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई है। एसपी सिटी कुलदीप गुनावत ने बताया कि दोनों परिवारों के बीच पहले से रंजिश चली आ रही है। जिसके चलते आरोपी ने पहले घटना को अंजाम दिया, जिसके बाद खुद को गोली मार ली है। उन्होंने बताया कि गांव में तनाव के चलते फोर्स तैनात है और पुलिस की कार्रवाई जारी है।

खबरें और भी हैं...