पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मछली पालन के तालाब में घुसा मगरमच्छ, फैली दहशत:अलीगढ़ के हरदुआगंज क्षेत्र के गांव बुढ़ासी का मामला, मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने पकड़ा

अलीगढ़10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मगरमच्छ के साथ वन विभाग के कर्मचारी - Dainik Bhaskar
मगरमच्छ के साथ वन विभाग के कर्मचारी

अलीगढ़ के हरदुआगंज इलाके के गांव बुढ़ासी में शनिवार रात एक मगरमच्छ मछली पालन के तालाब में घुस गया। तालाब में घुसने के बाद मगरमच्छ कई घंटे उसमें रहा और मछलियां खाता रहा। कई घंटे बाद तालाब में कार्यरत कर्मचारी ने मगरमच्छ को देखा तो उसके पसीने छूट गए, जिसके बाद उसने मालिक को तुरंत इसकी सूचना दी। वहीं तालाब में मगरमच्छ होने की जानकारी मिलने पर पूरे गांव में सनसनी फैल गई और ग्रामीण वहां इकट्‌ठा हो गए। मौके पर वन विभाग की टीमें भी पहुंच गई और कई घंटे की मशक्कत के बाद मगरमच्छ को पकड़ा।

दो घंटे बाद हाथ आया मगरमच्छ

गांव नयाबांस नरेंद्रगढ़ी निवासी मनोज चौहान हरदुआगंज में मयंक भट्‌ठा के निकट मछली पालन का काम करते हैं। तालाब की निगरानी के लिए उन्होंने एक कर्मचारी भी रखा है, जो 24 घंटे तालाब की निगरानी करता है। जब उसने मगरमच्छ की सूचना दी तो मनोज ने इसकी जानकारी तुरंत क्षेत्रिय थाने में और वन विभाग को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ को पकड़ने के लिए तालाब में जाला। कई घंटे की मशक्कत के बाद मगरमच्छ को पकड़ा जा सका। हालांकि यह ज्यादा बढ़ा नहीं था, लेकिन जब तक वह पकड़ा नहीं गया ग्रामीणों में इसका डर बना रहा। जिसके बाद वन विभाग की टीम मगरमच्छ को अपने साथ ले गई।

आसपास के क्षेत्र में मुआयना करेगा वन विभाग

वन विभाग की टीम रविवार को आसपास के क्षेत्र में भी मुआयना करेगी। क्योंकि आसपास कोई नहर या नदी नहीं है। हरदुआगंज नहर भी घटना स्थल से काफी दूर है और नहर में कभी मगरमच्छ के मिलने की घटना नहीं हुई। बच्चे और बड़े इसमें नहाते हैं और दूसरे जरूरी काम भी नहर के पानी से करते हैं। इसके बाद भी यह मगरमच्छ गांव के तालाब तक पहुंच गया। यह मगरमच्छ कहां से आया और किस तरह यह गांव के अंदर तालाब तक पहुंचा यह देखने के लिए टीमें आसपास के क्षेत्र का जायजा लेंगी। वहीं ग्रामीणों में इस बात की दहशत बनी हुई है।

खबरें और भी हैं...