अलीगढ़...व्यापारी का शव रख परिजनों ने लगाया जाम:मैरिस रोड चौराहे पर कार सवार युवक ने गोली मारकर की थी हत्या

अलीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जाम लगने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एसपी सिटी कुलदीप गुनावत व अन्य अधिकारी। - Dainik Bhaskar
जाम लगने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे एसपी सिटी कुलदीप गुनावत व अन्य अधिकारी।

अलीगढ़ के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र में पशु व्यापारी की हत्या को लेकर शनिवार को परिजनों ने जमकर हंगामा किया। पोस्टमार्टम के बाद परिजनों ने देर शाम व्यापारी का शव रखकर सड़क पर जाम लगा दिया। परिजनों की मांग थी कि मृतक के बच्चे अभी छोटे हैं। परिवार का भरण पोषण के लिए सरकार की ओर से उसे मुआवजा मिलना चाहिए।

सड़क जाम होने की सूचना मिलने पर एसपी सिटी कुलदीप गुनावत समेत विभिन्न अधिकारी मौके पहुंचे और परिजनों से बातचीत की। काफी देर बातचीत चलने के बाद परिजनों ने जाम खोला, जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार कराया जा सका।

शुक्रवार देर रात हुई थी हत्या

अलीगढ़ के देहलीगेट थाना क्षेत्र के ख्वाजा चौक निवासी पशु व्यापारी कमाल शुक्रवार देर रात अपने बच्चे के साथ घूमने निकले थे। उनके साथ उनके पड़ोसी भी थे। सभी मैरिस रोड से अब्दुल्ला जाने वाले रास्ते पर थे। तभी सामने से एक आल्टो कार वहां आई और किसी अन्य से झगड़ा करने लगे। इसी बीच आल्टो गाड़ी से निकले एक युवक ने पशु व्यापारी पर पिस्टल से गोलियां चलानी शुरू कर दी थी।

जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई थी। जिसके बाद आरोपी वहां से भाग निकले थे, लेकिन देर रात पुलिस ने आरोपी और हत्या में प्रयोग की गई पिस्टल को बरामद कर लिया था।

आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल

पुलिस ने देर रात ही गोली चलाने वाले आरोपी को ऑल्टो कार और हत्या में प्रयोग किए गए शस्त्र के साथ गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन मृतक के परिजन आरोप लगा रहे थे कि ससुराल पक्ष के लोगों ने व्यापारी की हत्या कराई है। जिसके बाद पुलिस ने हत्यारे और मृतक के ससुरालजनों के बीच का कनेक्शन ढूंढ़ने की कोशिश की, लेकिन ऐसा कोई भी मामला सामने नहीं आया। जिसके बाद आरोपी को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है।

सीओ प्रथम राघवेंद्र सिंह ने बताया कि मृतक के परिवार जनों ने मुआवजे की मांग को लेकर सड़क पर जाम लगाया था। जिसके बाद अधिकारियों की समझाइश के बाद सभी मान गए हैं। उन्होंने बताया कि गोली चलाने वाले का मृतक के ससुराल जनों के साथ कोई कनेक्शन सामने नहीं आया है। फिर भी मामले की जांच की जा रही है। जिससे सभी तथ्यों को सामने लाया जा सके।

खबरें और भी हैं...