शादी अनुदान के लिए नहीं मिला बजट:अंबेडकरनगर में 500 लोगों ने किया आवेदन, मिलता है 20 हजार रुपए

अंबेडकरनगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शादी अनुदान के लिए नहीं मिला बजट - Dainik Bhaskar
शादी अनुदान के लिए नहीं मिला बजट

अंबेडकरनगर में पिछड़े वर्ग की गरीब लड़कियों को मिलने वाला शादी अनुदान अभी तक नहीं मिला। योजना के तहत पिछड़ी वर्ग की बेटियों को व्यक्तिगत अनुदान के रूप में 20 हजार रुपये की सहायता दी जाती है। 2022 -23 का बजट पास होने के बाद भी पिछड़ा वर्ग विभाग को शादी अनुदान योजना के तहत मिलने वाला बजट जारी नहीं किया गया।

अनुदान के लिए पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग में आवेदन करना होता है। शादी की तारीख के 90 दिन पहले या 90 दिनों बाद तक ऑनलाइन आवेदन करना जरूरी होता है।

विभाग को नहीं जारी हुआ बजट
प्रदेश सरकार आम बजट पेश होने के बाद पिछड़ा वर्ग विभाग को शादी अनुदान का करोड़ों रुपये की बजट जाती करती थी।इस बार आम बजट पेश होने के बाद भी पिछड़ा वर्ग विभाग को शादी अनुदान के लिए मिलना वाला बजट नहीं जारी किया गया। शादी अनुदान के लिए लगातार फार्म भरे जा रहे हैं। विभागीय आंकड़ों पर गौर करें तो अभी तक करीब 500 आवेदन मिले हैं। पिछड़ा वर्ग विभाग के एक कर्मचारी ने बताया कि विधानसभा चुनाव से पहले पेश हुए अनुपूरक बजट में पिछड़ा वर्ग विभाग को 60 लाख रुपये शादी अनुदान का बजट दिया गया था, लेकिन इस बार अभी तक कोई बजट नही आया है।

2021-22 में मिला था 3 करोड़ 70 लाख का बजट
पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी विकास मौर्या ने बताया कि 2021-22 में 3 करोड़ 70 लाख रुपया बजट पिछड़ा वर्ग के गरीब लड़कियों के शादी अनुदान के लिए आया था, जिसमें 1850 लड़कियों को दिया गया था। वही इस बार के बजट में अभी कुछ नहीं आया है। अब जैसे बजट आएगा उसी के अनुसार अभ्यर्थियों को लाभ दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...