अंबेडकरनगर…सपा के गले की फांस बनी अकबरपुर सीट:ईमानदार मंत्री और BSP के बागी के बीच छिड़ी सियासी जंग, कुर्सी को लेकर दो पूर्व मंत्री में तकरार

अंबेडकरनगर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अंबेडकरनगर जिले की अकबरपुर विधानसभा सीट समाजवादी पार्टी के लिए गले की फांस बनती जा रही है। इस सीट से 2 पूर्व कैबिनेट मंत्री दावेदार हैं। एक सपा के पुराने सिपाही राममूर्ति वर्मा और दूसरे बीएसपी से बगावत कर आए राम अचल राजभर। दो नेता इस सीट से अपना टिकट पक्का मानकर चल रहे हैं। बसपा से बगावत करने के बाद निकाले गए अकबरपुर सीट से विधायक व पूर्व कैबिनेट मंत्री राम अचल राजभर समाजवादी पार्टी में तो शामिल हो गए, लेकिन ये अब पार्टी में बनाए रखना सपा के लिए चुनौती साबित हो रहा है।

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने राम अचल राजभर को बड़े गर्मजोशी से तो शामिल करा दिया, लेकिन अब इनको कहां एडजस्ट करते हैं और कहा से चुनाव लड़ाते हैं, यह आसन नहीं होगा। क्योंकि ये नेता जंहा से विधायक हैं, उन्हीं सीटों पर सपा का बड़ा कुर्मी चेहरा माने जाने वाले कद्दावर नेता पूर्व कैबिनेट मंत्री राममूर्ति वर्मा चुनाव लड़ते हैं। ऐसे स्थिति में देखना होगा कि सपा अपने पुराने नेता राममूर्ति पर दांव लगाती है कि बसपा से बागी बनकर आए राम अचल को दावेदार बनाती है।

सपा के लिए राम अचल को एडजस्ट करना बड़ी चुनौती

समाजवादी पार्टी ने बसपा के बागी नेता राम अचल राजभर को तो शामिल कर लिया, लेकिन इन्हें एडजस्ट करना बड़ी चुनौती है। अकबरपुर सीट से राममूर्ति वर्मा पिछले 20 साल संघर्ष कर रहे हैं और इसी सीट वह विधायक बनकर मंत्री बने थे। राममूर्ति वर्मा को सपा मुखिया अखिलेश यादव ने सपा शासनकाल में कई बार मंच से सबसे ईमानदार मंत्री कहकर पीठ थपथपाई है। इसलिए इस बार अगर पार्टी राममूर्ति वर्मा को छोड़कर राम अचल पर दांव लगाती है तो कुर्मी वोट के साथ कई बड़े सपाई बगावत कर सकते हैं। ऐसे में फिर समीकरण बदल जाएगा और ये सीट सपा के हाथ से निकल जाएगी।

दोनों नेताओं के समर्थक कर रहे दावेदारी

समाजवादी पार्टी के पूर्व कैबिनेट मंत्री राममूर्ति वर्मा चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी किए हुए हैं। वह 2017 का चुनाव हारने के बाद से लगातार क्षेत्र में बने हुए हैं। इनके समर्थक कहते हैं कि मंत्री जी यहीं से चुनाव लड़ेंगे। वहीं सपा में शामिल होने के बाद राम अचल राजभर के भी समर्थक इसी सीट से चुनाव लड़ने की बात कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...