आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद ने किया निरीक्षण:जनपद अमेठी में संचालित विभिन्न योजनाओं का स्थलीय जायजा लेकर दिए दिशा-निर्देश

अमेठी तहसील4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेठी में आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद, उ0प्र0 मनीषा त्रिघाटिया ने विकास खंड गौरीगंज में विभिन्न परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया एवं संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। आयुक्त ने सर्वप्रथम सराय हृदय शाह में अस्थाई पशु आश्रय स्थल का निरीक्षण किया।

उन्होंने वहां पर गोवंशों के लिए चारा/भूसा इत्यादि की उपलब्धता देखी एवं पशुओं के स्वास्थ्य परीक्षण तथा टीकाकरण के संबंध में जानकारी ली। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि जनपद में 87 गोआश्रय स्थल संचालित हैं। जिनमें 10352 गोवंश संरक्षित किए गए हैं। आयुक्त ने गोवंशों में लम्पी वायरस के संबंध में जानकारी ली। जिस पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि जनपद अमेठी में अभी तक लंबी वायरस संबंधी कोई भी प्रकरण नहीं है। इसके उपरांत आयुक्त ने उच्च प्राथमिक विद्यालय सुजानपुर का निरीक्षण किया तथा बच्चों से पढ़ाई के संबंध में जानकारी ली एवं बेसिक शिक्षा अधिकारी से मध्यान भोजन, शिक्षण व्यवस्था, अध्यापकों की उपस्थिति, ड्रेस, जूता, बैग के लिए डीबीटी के माध्यम से अभिभावकों के खाते में धनराशि आदि भेजे जाने के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने विद्यालय परिसर में बालक बालिकाओं के लिए अलग-अलग शौचालय बनवाने के निर्देश दिए।

आंगनबाड़ी केंद्र का किया निरीक्षण
इसके उपरांत उन्होंने आंगनबाड़ी केंद्र पहुंचकर 6 माह के बच्चों को प्रथम बार अन्नप्राशन, गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की तथा बच्चों को फल वितरित किया। उन्होंने सरकारी राशन की दुकान का निरीक्षण कर शत प्रतिशत लाभार्थियों को राशन वितरण करने के निर्देश संबंधित कोटेदार को दिए, जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि इस ग्राम में 405 पात्र गृहस्थी एवं 147 अंतोदय कार्ड धारक कार्ड धारक हैं। जिनको राशन उपलब्ध कराया जा रहा है।

सुजानपुर में बने अमृत सरोवर का निरीक्षण किया
इसके उपरांत आयुक्त ने सुजानपुर में मनरेगा योजना अंतर्गत निर्मित कराए गए अमृत सरोवर का किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह सरोवर वर्षा जल संचयन के लिए बहुत ही उपयोगी है। बेहतर कार्य करने पर उन्होंने ग्राम प्रधान की प्रशंसा की। इसके उपरांत उन्होंने पंचायती राज विभाग द्वारा बनवाए गए। सामुदायिक शौचालय का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने वहां पर नियमित साफ-सफाई करने के निर्देश दिए।

सीएमओ कार्यालय में स्थापित कोविड कमांड एंड कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया
इसके बाद उन्होंने सीएमओ कार्यालय में स्थापित कोविड कमांड एंड कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। यहां पर उन्होंने लैंड-लाइन के माध्यम से होम आइसोलेट मरीजों से स्वयं वार्ता कर उनके स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। इसके बाद जिला अस्पताल में कोविड वार्ड का निरीक्षण किया तथा वहां पर समस्त सुविधाएं उपलब्ध रखने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि चिकित्सालय परिसर में बेहतर साफ सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए तथा आने वाले मरीजों का त्वरित उपचार सुनिश्चित कराया जाए।

निरीक्षण के दौरान उपस्थित लोग
निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर, जिला विकास अधिकारी तेजभान सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. विमलेंदु शेखर, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ जेपी सिंह, डीसी एनआरएलएम सुनील तिवारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संगीता सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी संतोष श्रीवास्तव, जिला पूर्ति अधिकारी सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...