अमेठी तहसील में मंगलदल का गठन:युवा ही राष्ट्र की धरोहर हैं, चारित्रिक विकास और स्वावलंबी बनाना मुख्य उद्देश्य

अमेठी तहसील9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ग्रामीण युवाओं को राष्ट्र की मुख्य धारा में लाने और उनके चारित्रिक विकास करने, आर्थिक दृष्टि से स्वावलंबी बनाने, सहकारिता की भावना जागृत करने और ग्रामीण विकास योजनाओं में उनकी सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु प्रत्येक ग्राम पंचायत में युवाकल्याण विभाग द्वारा युवक एवं महिला मंगल दलों का गठन किया जाता है।

प्रभारी जिला युवा कल्याण अधिकारी रितेश वर्मा जी ने वताया कि युवक एवं महिला मंगल दल विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के मुख्य कड़ी होते हैं। वर्तमान समय में जनपद में 13 विकास खण्डों के 682 ग्राम पंचायतों में 1112 मंगलदलों का गठन किया जा चुका है।जिसमें 630 युवक मंगलदल और 482 महिला मंगलदल है। शेष ग्राम पंचायतों में मंगलदल का गठन गठन जारी है। इच्छुक 13-29 वर्ष के उत्साही युवा विकास खण्ड पर तैनात क्षेत्रीय युवाकल्याण अधिकारी से संपर्क कर कर विभाग द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं।

प्रत्येक वर्ष चयनित सक्रिय मंगलदलों को खेल प्रोत्साहन स्वरूप हेतु खेलकिट वितरण किया जाता है। जिससे कि वह विभाग द्वारा आयोजित होने वाली खुली ग्रामीण खेलकूद प्रतियोगिता में प्रतिभाग कर सकें। मंगलदलों को उनके द्वारा किए गए सामाजिक एवं राष्ट्रीय कार्यों के आधार पर प्रत्येक वर्ष विकास खण्ड स्तर पर, जनपद स्तर पर, एवं राज्य स्तर पर विवेकानंद यूथ अवार्ड दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...