नहीं पूरा हो सका ओवरब्रिज का निर्माण, लग रहा जाम:अमेठी में 4 दिनों की बारिश में लबालब हुआ इलाका, डेढ़ लाख की आबादी प्रभावित

अमेठी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दशकों से अमेठी के ककवा रोड स्थित रेलवे ओवरब्रिज की लोगों की मांग पूरी तो हुई, लेकिन शुरू होने के बाद अधर में लटका निर्माण कार्य अब लोगों के लिए दुविधा का कारण बन गया है। भारी बारिश के बाद पानी जमा है तो कीचड़ है। रेलवे ने आसपास के रास्ते भी अवरुद्ध कर दिए हैं। ऐसे में डेढ़ लाख की आबादी प्रभावित हो रही है।

रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण का कार्य अधूरा

बता दें कि पिछले कई दशक से शहर के ककवा रोड स्थित रेलवे क्रॉसिंग पर ओवरब्रिज बनवाए जाने की बहुप्रतिक्षित मांग पूरी हो गई। लखनऊ-वाराणसी रेल मार्ग पर स्थित 102-बी क्रॉसिंग पर रेलवे ओवरब्रिज का निर्माण का कार्य शुरू हुआ। करीब 21 करोड़ की लागत से होने वाले रेलवे ओवरब्रिज निर्माण के लिए शासन ने उत्तर प्रदेश सेतु निर्माण निगम लिमिटेड सुल्तानपुर इकाई को कार्यदायी संस्था नामित किया था। दिसंबर तक इसका कार्य पूरा हो जाना था, लेकिन रेलवे की लेटलतीफी के कारण हुआ नहीं।

4 दिनों से झमाझम हो रही बारिश

अब इसका असर यह हुआ कि पिछले 4 दिनों से जबर्दस्त बारिश हुई, जिससे यहां पानी जमा हो गया। काफी कीचड़ भी है। बाइक और साइकिल तो दूर लोगों का पैदल चलना दूभर है। वहीं आसपास की गलियों से लोग बचकर निकल सकते थे। इन रास्तों को रेलवे ने बंद कर दिया है। ऐसे में अब लोगों की सांसें सांसत में हैं।

लखनऊ-वाराणसी रेल मार्ग पर बन रहा ओवरब्रिज

गौरतलब है कि लखनऊ-वाराणसी रेल मार्ग पर ट्रेनों की संख्या बढ़ने से अक्सर रेलवे क्रॉसिंग बंद ही रहती थी। इस क्रॉसिंग से जनपद प्रतापगढ़ के अमेठी-शाहबरी-किठावर मार्ग और दूसरा ककवा, अठेहा, परशदेपुर व रायबरेली मार्ग जाता है। इस मार्ग से प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग गुजरते थे। क्रॉसिंग बंद होने से जहां भीषण जाम में दर्जनों वाहन फंसे रहते थे तो वहीं स्थानीय लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ता था।

खबरें और भी हैं...