अमेठी में तालाब की जमीन पर दबंगों ने किया कब्जा:घर और शौचालय का कराया निर्माण, ग्रामीणों ने कब्जा हटवाने के लिए SDM से की शिकायत

अमेठीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमेठी में सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा कर निर्माण कराने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। यह स्थिति जिले में तब है, जब यहां प्रशासन ऐसी जमीनों पर निर्माण को बुलडोजर से जमींदोज कर रहा है, लेकिन दबंग और सरहंग हैं कि इस कृत्य से बाज नहीं आ रहे हैं। अब ऐसा ही मामला जिले के मुसाफिरखाना कोतवाली क्षेत्र से प्रकाश में आया है। जहां दबंगों ने तालाब की जमीन को कब्जा कर निर्माण करा डाला है।

मुसाफिरखाना तहसील क्षेत्र का मामला
जानकारी के अनुसार, मामला मुसाफिरखाना तहसील अन्तर्गत अशरफपुर गांव से जुड़ा है। गांव निवासी कुदरत अली पुत्र ऐवज अली ने मुसाफिरखाना के उपजिलाधिकारी को प्रार्थना पत्र देकर बताया है कि गाटा संख्या 717/0.016 व 806/0.063 तालाब की जमीन है। इस तालाब की जमीन पर गांव के ही सरहंग किस्म के व्यक्ति त्रिवेणी पुत्र राम प्यारे, शांति देवी पत्नी राम चंदर व रामभवन पुत्र जियालाल ने कब्जा करके कोठरी बना लिया। यही नहीं इसमें यह सरहंग कृषि उत्पादक का सामान रखते हैं। शिकायत कर्ता ने एसडीएम को यह भी बताया है कि सरहंगों ने उक्त जमीन पर शौचालय भी बना लिया है।

घरों का पानी निकलने में है समस्या
जिससे गांव के लोगों के घरो का पानी नहीं निकल पा रहा है। कुदरत अली ने उप जिलाधिकारी से गुहार लगाते हुए उपरोक्त लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शिकायतकर्ता ने कहा है कि राजस्व विभाग, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली जगदीशपुर को निर्देशित करते हुए कानूनी कार्यवाही करते हुए तालाब की भूमि पर अतिक्रमण हटवाकर तालाब को सुरक्षित कराया जाए।

खबरें और भी हैं...