अमेठी में स्मृति ईरानी की लस्सी पर चर्चा VIDEO:अशरफी के यहां लस्सी पी और पूछा- कभी गांधी परिवार का कोई आया था ? जवाब आया- हां राहुल, प्रियंका; फिर पूछा- राम मंदिर बन रहा, कैसा लग रहा ?

अमेठीएक महीने पहले

केंद्रीय मंत्री और सांसद स्मृति ईरानी शनिवार को दो दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुंचीं। यहां उन्होंने 7 करोड़ 19 लाख रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण किया। साथ ही जगदीशपुर सीएचसी में ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण भी किया। कार्यक्रम के बाद स्मृति क्षेत्र भ्रमण को निकलीं, यहां उन्होंने एक बार फिर गांधी परिवार की लोकप्रियता जानने की कोशिश की। केंद्रीय मंत्री का काफिला अमेठी के मशहूर लस्सी वाले अशरफी लाल की दुकान पर रुका।

लगभग 50 साल पुरानी इस दुकान में स्मृति ईरानी पहुंची और लस्सी का ऑर्डर किया। यहां सत्तर वर्षीय अशरफी से पुराने दौर की बातें छेड़ दीं। स्मृति ईरानी ने पूछा- आपकी दुकान पर लस्सी पीने गांधी परिवार का कोई आया था या नहीं। जवाब मिला राहुल गांधी, प्रियंका गांधी आईं।

स्मृति ईरानी यहीं नहीं रुकीं, पूछा- आपको कैसा लग रहा है, अयोध्या में रामजी का मंदिर बन रहा है़। जवाब मिला-इतने सालों का सपना पूरा हो रहा। यहां अशरफी की फैमिली से भी स्मृति ईरानी मिलीं और उनकी नातिन के साथ उन्होंने सेल्फी भी ली। जामो और जगदीशपुर से तय कार्यक्रमों को संपन्न करने के बाद स्मृति ईरानी का काफिला बेनीपुर पहुंचा, यहां स्मृति ने 50 बेड के आयुर्वेद हॉस्पिटल का उद्घाटन किया।

राहुल गांधी पर स्मृति ने साधा निशाना

इससे पहले लोकार्पण के दौरान स्मृति ने राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, 'कोरोना महामारी ने जब अमेठी के दरवाजे पर दस्तक दी, तो यहां के वरिष्ठ नागरिक जानते हैं कि यहां पर एक ढंग का जिला अस्पताल भी नहीं था, लेकिन अब तस्वीर बदल गई है। अमेठी के प्रशासन ने ये संकल्प लिया है कि भारत सरकार और प्रदेश सरकार के साथ समन्वय कर जो 70 साल में अमेठी में नहीं हो पाया है, वो व्यवस्था हम करके दिखाएंगे'।

परियोजनाओं का किया लोकार्पण।
परियोजनाओं का किया लोकार्पण।

40 लाख की लागत से बनी कम्प्यूटर प्रयोगशाला​ का किया लोकार्पण​​​​​​

दौरे के पहले दिन स्मृति ईरानी ने अपने संसदीय क्षेत्र में 7 करोड़ 19 लाख रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण किया। साथ ही उन्होंने कस्तूरबा गांधी विद्यालय में 1 करोड़ 40 लाख रुपए की लागत से बनी कम्प्यूटर प्रयोगशाला का लोकार्पण भी किया है। स्मृति ईरानी ने 70 लाख की धनराशि से बने किसान कल्याण केंद्र का भी लोकार्पण किया है। कार्यक्रम में स्मृति ईरानी ने किसानों के लिए मोदी और योगी सरकार की योजनाओं पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि बेहतर फसल उत्पादन के लिए मृदा परीक्षण प्रयोगशाला सहित कई परियोजनाएं व योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने किसानों को खाद की उपलब्धता का भरोसा दिलाया। स्मृति ईरानी विधायक तेजभान सिंह के घर अचलपुर में संवेदना प्रकट करने पहुंचीं। इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी, प्रवक्ता चंद्र मौलि सहित पार्टी के अन्य पदाधिकारी और कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

नहीं होने दी ऑक्सीजन की कमी

उन्होंने कहा कि एक महीने में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए 650 बेड की व्यवस्था पूरे अमेठी में जिला प्रशासन ने करवाई है। उन्होंने कहा कि अमेठी के एक-एक कोरोना वारियर, एक-एक डॉक्टर और एक-एक अस्पताल में काम करने वाले व्यक्ति ने इस महामारी में अमेठी का संरक्षण किया। जब कोविड महामारी आई तो ये सच है कि अमेठी में एक भी ऑक्सीजन प्लांट नही था। ऑक्सीजन प्लांट नहीं होने पर भी जिला प्रशासन ने जिले के अंदर ऑक्सीजन की कमी नहीं होने दी।

व्यवस्थाओं का लिया जायजा।
व्यवस्थाओं का लिया जायजा।

बोइंग कंपनी ने दिए 80 लाख रुपए दान

जगदीशपुर में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि आप लोग जानते हैं बोइंग कंपनी क्या करती है। ये कंपनी विश्व भर में जहाज बनाती है। वो जहाज बनाने वाली कंपनी आसमान से उतर कर जगदीशपुर आई और उन्होंने प्लांट के लिए 80 लाख रुपये दान किए हैं। उनकी जो महिला अफसर हैं वो यहां एक कोने में खड़ी हैं। हमारा सौभाग्य है कि ऐसी महिला हमारे बीच में हैं। हम ऐसे ही अमेठी के विकास के लिए काम करते रहेंगे।

खबरें और भी हैं...