पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Amethi
  • Priyanka Gandhi Reached Amethi After 22 Months: Condolences To The Relatives On The Death Of 3 Innocents, Spoke To The Media Election Is Coming, Work

प्रियंका का रायबरेली दौरा रद्द:3 मासूमों की मौत पर परिजनों को सांत्वना देने गई थीं अमेठी, रायबरेली के सारे कार्यक्रम किए रद्द, दिल्ली के लिए हुईं रवाना

अमेठी/रायबरेली9 दिन पहले
प्रियंका ने परिवार वालों को सांत्वना देकर हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।

रायबरेली के दो दिवसीय दौरे पर रविवार को आईं प्रियंका गांधी देर रात अमेठी पहुंच गई। 22 महीनों के अंतराल के बाद मोहनगंज थाना क्षेत्र के टोडर गांव में पहुंची। यहां 6 दिन पहले कच्ची दीवार गिर जाने से तीन मासूमों की मौत हो गई थी। प्रियंका ने परिवार वालों को सांत्वना देकर हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि बच्चों के परिवार की सरकार को मदद करनी चाहिए। समाज और हम सबको मदद करनी चाहिए। उन्होंने चौथे स्तंभ को संदेश दिया है कि 2022 में मीडिया की भूमिका अहम है। उन्होंने रिक्वेस्ट किया है कि अगर मीडिया अपना काम अच्छे तरीके से कर दे तो और भी बेहतर हो जाएगा।

दरअसल, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज भुएमऊ गेस्ट हाउस में जनता दरबार लगाने वाली थीं। यहां उन्हें लोगों से मुलाकात करनी थी। बताया जा रहा है कि बछरांवा या हरचंदपुर विधानसभा के किसी भी गांव का वो भ्रमण भी कर सकती थीं, लेकिन एकाएक उनका प्रोगाम कैंसिल हो गया। प्रियंका का काफिला लगभग 7:45 पर लखनऊ एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गया। यहां से वह सीधे दिल्ली जाएंगी।

हर संभव मदद का दिया भरोसा

6 सितंबर को मोहनगंज थाना क्षेत्र के टोडरपुर मजरे जमुरवां गांव में बारिश के चलते कच्चे मकान की दीवार ढह गई थी। जिसमें वंश (8), दिव्यांशु (6), सत्यम (10) की मौत हो गई थी। जबकि आशीष (10) और शिवा (10) घायल हो गए थे। हालत गंभीर होने पर एक को रायबरेली जिला अस्पताल रेफर किया गया था। इसी के चलते प्रियंका गांधी पीड़ित परिवारों को सांत्वना देने पहुंची। इसके बाद रात करीब 10 बजे वह रायबरेली वापस लौटीं। उन्होंने यहां भुएमऊ के गेस्ट हाउस में विश्राम किया।

23 जनवरी को आईं थी अमेठी

2020 में 23 जनवरी को कांग्रेस महासचिव प्रियंका सोनिया गांधी के साथ अमेठी के दौरे पर आईं थीं। प्रियंका अमेठी के भरेठा गांव में सड़क दुर्घटना में मारे गए एक ही परिवार के छह लोगों की मौत के बाद पहुंची थीं और परिवार के सदस्यों से शोक व्यक्त किया था। बता दें कि 19 जनवरी 2020 को अमेठी-गौरीगंज हाईवे पर एक ट्रक ने बोलेरो को टक्कर मार दी थी। जिसमें गौरीगंज में एक समारोह से परिवार अपने गांव लौट रहा था।

सरकार पर साधा निशाना

प्रियंका ने योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार पर निशाना साधते हुए रविवार को कहा कि राज्य सरकार को ''न जनता के मुद्दों की समझ है और न ही उनसे कोई सरोकार है, यह बस झूठे विज्ञापन और हवाई दावों की सरकार है। उन्होंने फेसबुक पर अपने पोस्ट में लिखा कि पहले रोजगार के झूठे विज्ञापन देते पकड़े गए। अब इनके फ्लाईओवर व फैक्‍टरी की झूठी तस्वीरों वाले विज्ञापन की कलई खुल गई। उत्तर प्रदेश की जनता इनकी हवाई बातों की हकीकत समझ चुकी है और उत्तर प्रदेश में जनता सरकार तथा मुख्यमंत्री बदलने जा रही है। वहीं उन्होंने अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाया।

खबरें और भी हैं...