अमेठी में सड़क को लेकर प्रदर्शन:राज्यमंत्री सुरेश पासी के विधानसभा क्षेत्र में टूटी हैं सड़कें, ग्रामीणों ने दी वोट बहिष्कार की धमकी

अमेठी7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमेठी में सड़क को लेकर प्रदर्शन। - Dainik Bhaskar
अमेठी में सड़क को लेकर प्रदर्शन।

अमेठी जिले के जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र से राज्यमंत्री सुरेश पासी विधायक हैं। यहां सड़कों की हालत बद से बदतर हो गई है। सड़कों में गड्ढे हैं की गड्ढे में सड़के, यह बता पाना मुश्किल है। इस बीच आज यहां गूंगेमऊ के ग्रामीणों ने खराब सड़कों को लेकर विरोध करते हुए वोट बहिष्कार की धमकी दी है। क्षेत्र की टूटी सड़कें सरकार और राज्यमंत्री के कार्यकाल में हुए विकास के दावों की पोल खोल रही हैं।

जनप्रतिनिधि ने की क्षेत्र की अनदेखी

जगदीशपुर विधानसभा क्षेत्र के गूंगेमऊ के ग्रामीण आज गड्ढा युक्त सड़कों को लेकर विरोध प्रदर्शन पर उतर आए। प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों का आरोप है कि हमारे गांव में पिछले दो दशक से भाजपा को ही वोट दिया जाता है। हमारे गांव में भाजपा सर्वाधिक मत पाती है। बावजूद इसके सरकार के जनप्रतिनिधि क्षेत्र की सड़कों को लेकर अनदेखी करते हैं। हारीमऊ से गूंगेमऊ और मिश्रौली से गूंगेमऊ जो मुख्य मार्ग को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग हैं, वह गड्ढों में तब्दील हो गए हैं।

समस्या का नहीं हुआ समाधान

इसकी शिकायत कई बार की गई। बावजूद इसके कोई निराकरण नहीं हुआ। ग्रामीणों ने कहा कि गांव के प्रधान से लेकर ब्लॉक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य, क्षेत्र पंचायत सदस्य, विधायक और सांसद तक भाजपा के हैं। देश और प्रदेश में भाजपा की सरकार भी है। बावजूद इसके सड़कें नहीं बनवाई जा रही हैं। बच्चों को स्कूल जाना हो या एंबुलेंस आनी हो, हर समय दिक्कत होती है।

रोड नहीं तो वोट नहीं का लगाया था बोर्ड

ग्रामीणों ने बताया कि आए दिन लोग गिरकर चोटिल हो जाते हैं। जल्द से जल्द रोड मरम्मत नहीं कराई गई तो इसका खामियाजा सरकार को चुनाव में भुगतना पड़ेगा। बता दें कि 15 दिन पूर्व ही विधानसभा क्षेत्र के रंकापुर के ग्रामीणों ने रोड नहीं तो वोट नहीं का बोर्ड लगाकर सरकार का विरोध शुरू किया था, जिसकी लपट अब विधानसभा के अन्य गांवों में भी पहुंचने लगी है।

खबरें और भी हैं...