अमेठी में योगी बोले- गर्व से कहो हम हिंदू हैं:जिनके पूर्वज कहते थे हम तो एक्सीडेंटल हिंदू हैं, वह अपने को हिंदू नहीं बोल सकते

अमेठी5 महीने पहले

अमेठी में भाजपा की 'जन विश्वास यात्रा' में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हिंदू प्रेम दिखाई दिया। सीएम योगी ने कहा कि हम लोगों में कोई छिपाव भी नहीं है, कोई घबराहट भी नहीं है। जब मुख्यमंत्री नहीं थे तब भी कहते थे, आज भी कहते हैं, आगे भी कहेंगे कि, 'गर्व से कहो हम हिंदू हैं'।

सीएम योगी ने बिना नाम लिए कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। सीएम योगी ने कहा कि देश में सांप्रदायिकता विरोधी कानून लाकर हिन्दुओं को कैद कर देना चाहती थी। उनकी आस्था के साथ खिलवाड़ करना चाहती थी और जब कोई चुनाव आता था तब ये लोग हिंदू बनने निकल पड़ते थे। जिन लोगों ने विभाजनकारी राजनीति को सदैव अपनाया है, विघटन और विभाजन जिनके जीन का हिस्सा है, जिनके पूर्वज कहते थे हम तो एक्सीडेंटल हिंदू हैं तो वो लोग अपने को हिंदू नहीं बोल सकते। हम भारतीय हैं और हिंदू हमारी सांस्कृतिक पहचान है। इस पर हमको गौरव की अनुभूति होनी चाहिए।

जन विश्वास यात्रा के रथ पर पुष्प वर्षा करते भाजपा कार्यकर्ता।
जन विश्वास यात्रा के रथ पर पुष्प वर्षा करते भाजपा कार्यकर्ता।

बुलडोजर चलने पर बबुआ को बुरा लगता है

सीएम योगी ने कहा कि, कोरोना काल में सपा, कांग्रेस और बसपा का कोई भी कार्यकर्ता, कोई नेता, कोई जनप्रतिनिधि, इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर सामान्य कार्यकर्ता तक जनता के बीच नहीं थे। चुनाव आते ही ये लोग जहां तहां अपने दर्शन देने के लिए आ रहे होंगे और चुनाव बाद साढ़े चार साल तक गायब हो जाएंगे, फिर नहीं दिखाई देंगे। सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश सरकार का बुलडोजर जब चलता है तो उस समय समाजवादी पार्टी के बबुआ को बुरा लगता है, भाई और बहन को बुरा लगता है।

जन विश्वास यात्रा के रथ पर सवार केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, राज्यमंत्री मोहसिन रजा और कौशांबी सांसद विनोद सोनकर।
जन विश्वास यात्रा के रथ पर सवार केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, राज्यमंत्री मोहसिन रजा और कौशांबी सांसद विनोद सोनकर।

स्मृति ईरानी का भी कांग्रेस पर निशाना

कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि अमेठी को अंधकार में रखने का अपराध उस एक परिवार ने अकेले नहीं किया, हाथ में साइकिल को थामा और हाथ, साइकिल हाथी पर चढ़कर अमेठी के सपनों का तिरस्कार किया।

स्मृति ईरानी ने कहा आज पूछना चाहती हूं उनसे, जो दंभ भरते हैं रिश्तों का, जो दुहाई देती हैं महिला होने की। 50 साल आपका एकछत्र राज रहा, इस जनपद में ढाई लाख बहने ऐसी थीं जिनके पास कभी डॉक्टर के पास इलाज कराने का पैसा नहीं था। आप एक जनपद को अच्छे स्वास्थ्य की सुविधा नहीं दे पाएं और आज उत्तर प्रदेश को झूठे वादे देने का पाप कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...