हसनपुर में भाकियू ने आयोजित की बैठक:चीनी मिल और आवारा पशुओं का गरमाया मुद्दा, ट्यूबवेल पर बिजली के मीटर लगाने को बताया गलत

हसनपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमरोहा के हसनपुर में मंगलवार को भारतीय किसान यूनियन की ब्लॉक स्तरीय बैठक आयोजित हुई। यह बैठक मंडी समिति परिसर में की गई। इसकी अध्यक्षता रोहताश सिंह तथा संचालन ब्लॉक अध्यक्ष काले सिंह ने किया।

बैठक में ब्लॉक अध्यक्ष काले सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा एमएसपी देने का वादा किया था। केंद्र सरकार उस वादे को पूरा नहीं कर रही है। दिल्ली बॉर्डर पर किसान आंदोलन के समय किसानों पर झूठे मुकदमे लगाए गए थे। केंद्र सरकार द्वारा मुकदमे वापस लेने का वादा किया। लेकिन अभी तक मुकदमे वापस नहीं लिए गए हैं। कहा कि गांव पूठी के मेवाराम सिंह ने एक जमीन संबंधी प्रार्थना पत्र उप जिलाधिकारी हसनपुर को दिया था। 15 दिन बीत जाने के बावजूद भी प्रार्थना पत्र पर कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है।

आवारा पशुओं से किसानों को राहत नहीं

उन्होंने बताया कि किसानों के ट्यूबवेल पर मीटर लगाए जा रहे हैं। जो कि गलत है, यदि विभाग नहीं मानता है, तो मीटर उतरवाकर बिजली घर पर जमा कर देंगे। आवारा पशु किसानों की फसलों को बर्बाद कर रहे हैं। प्रशासन से बार-बार कहने के बाद भी आवारा पशुओं से किसानों को राहत नहीं मिल रही है।

चीनी मिल हसनपुर द्वारा सत्र 2021-22 का किसानों के गन्ने का भुगतान नहीं किया गया है। जल्द से जल्द गन्ना भुगतान कराया जाए। चीनी मिल हसनपुर की क्षमता वृद्धि का वादा किए हुए लगभग 3 वर्ष बीत चुके हैं,परंतु सरकार द्वारा अभी तक उस पर कोई कार्य नहीं हुआ है। उन्होंने मांग करते हुए कहा कि तत्काल कार्य शुरू कराया जाए।

बैठक में यह लोग मौजूद रहे

बैठक में धर्मपाल सिंह,मंगल सिंह,सीताराम,नीलम, इसरार अली,पीतम सिंह,रामचंद्र सिंह,अंतराम सिंह, बीरबल सिंह,अनूप सिंह,अमर सिंह,तोताराम सिंह, सीताराम सिंह,विजेंद्र सिंह,सत्यवीर सिंह,राजवीर, वीरपाल सिंह,महेश सिंह,महावीर सिंह,अतर सिंह,कमल सिंह,नौ सिंह,जसवंत सिंह आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...