अमरोहा में युवक को पेड़ से बांधकर बरसाए लात-घूंसे:हसनपुर के नुमाइश मेले में चोरी का था शक, अधिवक्ता के ट्वीट के बाद सक्रिय हुई पुलिस, तीन का चालान

हसनपुर, अमरोहा3 महीने पहले

नगर में चल रही सांस्कृतिक प्रदर्शनी एवं नुमाइश स्थल के नजदीक लोगों ने मानसिक रूप से कमजोर युवक को पकड़ लिया। उसे चोरी के शक में पेड़ में रस्सी से हाथ बांधकर जमकर लात घूंसे बरसाए। पिटाई का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों का शांति भंग में चालान किया है।

सोमवार देर शाम को वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे युवक को चोरी के शक में हाथ बांधकर पीटा जा रहा है। बताया जाता है कि यह वीडियो नगर में चल रही नुमाइश के पास का है।

अधिवक्ता के ट्वीट पर हरकत में आई पुलिस

अब्दुल्ला कॉलोनी निवासी अधिवक्ता सद्दाम सैफी ने अमरोहा पुलिस को टैग करते हुए ट्वीट कर लिखा कि जनपद अमरोहा के हसनपुर में चोरी के शक में पेड़ से बांधकर एक मंदबुद्धि की जमकर पिटाई। आखिर लोगों को कानून हाथ में लेने की इजाजत कौन देता है? माना के यह दोषी है तो इसे पुलिस के हवाले किया जाना था। ऐसे मामलों में लोग खुद ही न्याय करने लगे तो थाना पुलिस, कानून किस लिए हैं?

ट्वीट के बाद पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने कोतवाली पुलिस को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। उसके बाद सक्रिय हुई पुलिस ने वीडियो को देखकर पिटाई करने वालों की पहचान कराई। मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ शांति भंग में चालान किया गया।

प्रभारी निरीक्षक अरविंद कुमार त्यागी ने बताया कि सोशल मीडिया पर वायरल मारपीट के वीडियो के मामले में शेरगढ़ के जाबुल हसन, सुरेश तथा कवेंद्र के खिलाफ कार्रवाई की गई है।

अधिवक्ता के ट्वीट के बाद पुलिस ने की कार्रवाई।
अधिवक्ता के ट्वीट के बाद पुलिस ने की कार्रवाई।