अमरोहा में डिलीवरी के दौरान मौत:60 हजार रुपए लेकर झोलाछाप ने ऑपरेशन किया, बोला- हमारे खून की गारंटी रहेगी;  परिजनों ने हंगामा किया

अमरोहा4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हसनपुर के इंस्पेक्टर संजय तोमर ने बताया कि फिलहाल मामले की जांच चल रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। - Dainik Bhaskar
हसनपुर के इंस्पेक्टर संजय तोमर ने बताया कि फिलहाल मामले की जांच चल रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

अमरोहा में झोलाछाप के इलाज से प्रसूता की मौत हो गई। झोलाछाप ने गर्भवती के ऑपरेशन से प्रसव कराने के लिए साठ हजार रुपए लिए थे। प्रसव के बाद महिला की हालत बिगड़ने लगी तो झोलाझाप बोला कि अगर हम अपने पास से खून चढ़ाएंगे तो उसकी गारंटी रहेगी। परिजनों के तैयार होने पर झोलाछाप ने खून चढ़ाया तो प्रसूता की हालत बिगड़ गई।

परिजन उसे इलाज के लिए मेरठ ले जा रहे थे, जहां रास्ते में उसने दम तोड़ दिया। आक्रोशित परिजनों ने जमकर हंगामा किया। मामले की सूचना पर पहुंचे विधायक और पुलिस ने परिजनों को समझा-बुझाकर शांत कराया।

आधी बोतल खून चढ़ते ही बिगड़ी हालत

थाना रहरा के गांव खुशहालपुर निवासी कन्हैया सिंह ने अपनी पत्नी मालवती (25) को प्रसव पीड़ा होने पर बुधवार को हसनपुर में निशा मेडिकल में भर्ती कराया था। यहां पर वे चित्रा नाम की महिला के कहने पर आए थे। करीब रात आठ बजे ऑपरेशन से प्रसूता ने बेटी को जन्म दिया। शुक्रवार की सुबह तक जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ थे। कुछ देर बाद हालत बिगड़ने पर झोलाछाप ने खून चढ़ाया। आधी बोतल खून चढ़ते ही प्रसूता की हालत बिगड़ने लगी। रात करीब 11 बजे परिजने उसे लेकर मेरठ जा रहे थे तभी रास्ते में उसकी मौत हो गई।

परिजन उसे इलाज के लिए मेरठ ले जा रहे थे, जहां रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।
परिजन उसे इलाज के लिए मेरठ ले जा रहे थे, जहां रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

परिजनों के खून देने पर बोला झोलाछाप- तुम्हारी गारंटी होगी

प्रसूता के पति कन्हैया सिंह ने बताया कि प्रसव कराने के लिए उससे साठ हजार रुपए लिए गए। हालत बिगड़ने ने झोलाछाप ने खून चढ़ाने को कहा। मैंने अपना खून देने को कहा तो वह इसमें तुम्हारी गारंटी रहेगी। झोलाछाप बोला- अगर मैं अपने पास से खून चढ़ाऊंगा तो उसमें मेरी गारंटी होगी। परिजनों के तैयार होने पर झोलाछाप के खून चढ़ाते ही प्रसूता की हालत बिगड़ गई और उसकी मौत हो गई।

मौत पर भड़के मायके और ससुराल वाले, विधायक ने कराया शांत

महिला की मौत से भड़के ससुराल और मायके पक्ष के लोगों ने क्लीनिक पर जमकर हंगामा किया। इस दौरान अस्पताल का स्टाफ भी मौके से फरार हो गया। जानकारी मिलने पर कोतवाली की पुलिस वह हसनपुर के विधायक महेंद्र सिंह खड़गवंशी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने आक्रोशित परिजनों को समझाकर मामला शांत किया। हसनपुर के इंस्पेक्टर संजय तोमर ने बताया कि फिलहाल मामले की जांच चल रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

सीएओ बोले- रिपोर्ट आने के बाद करेंगे कार्रवाई

महिला की मौत के मामले पर सीएमओ संजय अग्रवाल ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में है। मामले की जांच के लिए नोडल अधिकारी सुरेंदर कुमार को नियुक्त किया गया है। उनको जांच के आदेश दे दिए हैं। रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी।

जांच और नोटिस तक ही सीमित स्वास्थ्य विभाग की कार्रवाई

स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी के चलते पूरे जनपद में झोलाछाप तेजी से बढ़ रहे हैं। कई बार इन झोलाछापों के इलाज से लोगों की जान गई है। इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग की कार्रवाई नोटिस और जांच तक ही सीमित है।

खबरें और भी हैं...