अमरोहा में व्यापारियों ने किया हंगामा:मंडी सचिव पर लगाया अवैध वसूली का आरोप, कहा- शुल्क के नाम पर मोटी रकम वसूली जा रही है

अमरोहा3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
व्यापारियों ने मंडी के बाहर किया हंगामा। - Dainik Bhaskar
व्यापारियों ने मंडी के बाहर किया हंगामा।

अमरोहा के गजरौला इलाके में स्थित मंडी समिति में बुधवार सुबह व्यापारियों ने हंगामा किया। मंडी शुल्क के एवज में मंडी सचिव द्वारा अवैध वसूली किए जाने से व्यापारी नाराज हैं। व्यापारी अवैध वसूली के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। इतना ही नहीं गुस्साए व्यापारियों ने मंडी गेट पर भी ताला डाल दिया। जिसके बाद नायब तहसीलदार के समझाने पर व्यापारी शांत हुए।

काफी समय से की जा रही है वसूली

मंडी समिति में आढ़ती, फल और सब्जी के तमाम विक्रेताओं ने बताया कि मंडी सचिव द्वारा हर महीने मंडी शुल्क के एवज में अवैध वसूली की जाती है। साथ ही लाइसेंस नया करने के नाम पर भी मोटी रकम वसूली गई है। उसकी न तो कोई रसीद दी गई और न ही कोई अन्य कागज दिया गया। आरोप लगाया है कि मंडी सचिव व्यापारियों के साथ बदसलूकी भी करते हैं। ऐसा एक दो महीने से नहीं बल्कि काफी लंबे समय से चलता आ रहा है।

व्यापारियों ने लगाए हाय-हाय के नारे

इससे नाराज होकर बुधवार की सुबह सभी व्यापारी एकजुट हो गए। वो लोग मंडी सचिव के खिलाफ धरने पर बैठ गए। साथ ही मंडी के गेट पर तालाबंदी कर सचिव कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान उन्होंने मंडी सचिव हाय-हाय के नारे भी लगाए। मंडी सचिव द्वारा आक्रोशित व्यापारियों को समझाने का प्रयास किया गया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। बाद में नायाब तहसीलदार मौके पर पहुंचे। उन्होंने व्यापारियों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देते हुए हंगामा कर रहे व्यापारियों को शांत कराया।

मंडी सचिव ने कहा- झूठे हैं आरोप

मंडी समिति में व्यापारियों द्वारा किए गए हंगामे के मामले में मंडी सचिव संजीव कुमार ने बताया कि व्यापारियों द्वारा लगाया गया अवैध वसूली का आरोप निराधार है। रही अवैध वसूली करने की बात तो आजकल रसीद ऑनलाइन मिल रही है। कोई भी व्यापारी कहीं से भी रसीद निकलवा सकता है।

खबरें और भी हैं...