अमरोहा में दलित मां-बेटी की हत्या:मायके पक्ष ने ससुराल पक्ष पर लगाया आरोप; DIG शलभ माथुर मौके पर पहुंचे

अमरोहा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अमरोहा में बीती रात घर के आंगन में सो रही मां-बेटी की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। सुबह पड़ोस के लोगों ने दोनों के शव को लहूलुहान हालत में देखा। ग्रामीणों की मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई। इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया है। पुलिस अधीक्षक आदित्य लांग्हे घटना की जांच पड़ताल में जुटे हैं।

पूरी घटना गजरौला कोतवाली इलाके में नेशनल हाईवे किनारे बसे गांव काकाठेर की है। गांव निवासी 38 वर्षीय मिथलेश पत्नी स्व. पवन अपनी दस वर्षीय बेटी यशी के साथ रहती थी। जबकि बड़ा बेटा हसनपुर थाना क्षेत्र के गांव बहापुर स्थित अपनी ननिहाल में रहता था।

पुलिस ने घटना स्थल से शव को कब्जे में ले लिया।
पुलिस ने घटना स्थल से शव को कब्जे में ले लिया।

बेटी को साथ लेकर सो रही थी मां
बीती रात मां बेटी अपने घर के आंगन में चारपाई पर सो रही थी। ग्रामीणों के मुताबिक बीती रात किसी ने दोनों की धारदार हथियार से निर्मम तरीके से हत्या कर दी। मां बेटी का शव घर के आंगन में चारपाई पर एक साथ लहूलुहान हालत में पड़ा मिला। सिर पर चोट के निशान थे।

घर में सो रही मां और बेटी की हत्या। मौके पर पहुंची पुलिस।
घर में सो रही मां और बेटी की हत्या। मौके पर पहुंची पुलिस।

शराबी युवक से पूछताछ कर रही पुलिस
मौके पर पहुंची पुलिस ने गांव निवासी एक शराबी युवक को हिरासत में लिया है। जिससे पूछताछ चल रही है। घटना पर कई थानों की फोर्स पहुंची है। साथ ही पुलिस अधीक्षक समेत कई पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हुए हैं। पुलिस की टीम जांच पड़ताल करने में जुटी है। गांव में तनाव की स्थिति है। डॉग स्क्वायड के माध्यम से फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य एकत्र किए है।

मायके पक्ष ने हत्या करने का लगाया आरोप
घटना के बाद गांव पहुंचे मायके पक्ष के लोगों ने परिवार के लोगों पर जमीन के लालच में हत्या करने का आरोप लगाया है। ग्रामीणों ने बताया कि मिथलेश की 2012 में मौत हो गई थी। जिसके बाद से उसकी पत्नी किसानी कर अपना और अपनी 12 वर्षीय बेटी का पालन पोषण कर रही थी। जबकि बड़ा बेटा हसनपुर में अपने ननिहाल में रहकर पढ़ाई कर रहा था।

डीआईजी शलभ माथुर मौके पर पहुंचे। जहां ग्रामीणों की भीड़ लग हुई है।
डीआईजी शलभ माथुर मौके पर पहुंचे। जहां ग्रामीणों की भीड़ लग हुई है।

मायके पक्ष के लोगों ने थाने के सामने लगाया जाम
मां बेटी की हत्या के बाद मौके पर पहुंचे मायके वालों ने थाने के बाहर बिजनौर मार्ग पर जाम लगा दिया है। उनका आरोप है कि पुलिस वालों ने उनके आने से पहले ही शवों को पीएम के लिए भेज दिया। मायके पक्ष के लोग पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए हंगामा कर रहे है। भारी पुलिस बल मौके पर है। वहीं घटना की जानकारी होते ही डीआईजी शलभ माथुर मौके पर पहुंचे हैं। एडीजी राजकुमार सिंह पहुंच रहे हैं।

जमीन के लालच में की गई हत्या
डीआईजी शलभ माथुर ने बताया कि मृतका मिथलेश के भाई विजय कुमार की तहरीर के आधार पर गजरौला कोतवाली में ससुर नानक, जेठ शेर सिंह, श्योमवीर और जेठ के बेटे अनिकेत के खिलाफ जमीन के लालच में मां-बेटी की हत्या करने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कुछ लोग हिरासत में भी लिए गए हैं। जिनसे पूछताछ की जा रही है। जल्द ही घटना का खुलासा किया जाएगा। उधर एडीजी राजकुमार सिंह ने भी घटनास्थल का मौका मुआयना कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।

खबरें और भी हैं...