अमरोहा में पुलिस ने ई-रिक्शा चालकों के साथ की बैठक:कहा- किसी का दिया न कुछ खाएं न ही किसी की बातों पर भरोसा करें, लापरवाही की तो नहीं दर्ज होगा केस

अमरोहा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अमरोहा में पुलिस ने ई-रिक्शा चालकों के साथ की बैठक - Dainik Bhaskar
अमरोहा में पुलिस ने ई-रिक्शा चालकों के साथ की बैठक

अमरोहा में बीते दिनों से जहरखुरानी गिरोह द्वारा ई-रिक्शा लूट की घटनाएं सामने आ रही थी। जिसको लेकर पुलिस के सिर में भी दर्द था। बीते दो दिन पूर्व भी जहरखुरानी गिरोह ने एक ई-रिक्शा चालक किशोर को अपना निशाना बना लिया और ई-रिक्शा लूट कर फरार हो गए। जिसके बाद चालक बेहोशी की हालत में हाइवे किनारे पड़ा मिला था। आज धनौरा सीओ सतेंद्र सिंह ने सभी ई-रिक्शा चालकों के साथ गजरौला कोतवाली में बैठक करते हुए ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए दिशा-निर्देश दिए। साथ ही आइंदा ऐसी घटना पुनः होने पर FIR दर्ज न करने की बात कहते हुए दिए गए निर्देशों का पालन करने की बात कही।

बढ़ते जा रहे हैं जहरखुरानी के मामले

शहर में जहरखुरानी गिरोह के बढ़ते मामलों को लेकर पुलिस सतर्क नजर आ रही है। शुक्रवार को धनौरा पुलिस क्षेत्राधिकारी सतेंद्र सिंह ने गजरौला कोतवाली में सैंकड़ों ई-रिक्शा चालकों संग बैठक करते हुए उन्हें बताया कि किसी भी अनजान सवारी पर विश्वास न करें और न ही उनके द्वारा दिए गए कुछ भी खाने के सामान को न खाएं। साथ ही बताया कि कोई सवारी कुछ खाने की बात कहती है तो तुरंत पुलिस को सूचित करें। आगे कहा कि इस बैठक के माध्यम से समझाने के बाद भी अगर आगे से कोई ऐसी घटना पुनः होती है तो कोई रिपोर्ट दर्ज नही की जाएगी। इसके साथ ही सभी ई-रिक्शा चालकों को शहर में ही ई-रिक्शा चलाने की बात कही।

नशीली पदार्थ खिलाकर 10 मिनट में कर देते हैं बेहोश

आपको बता दे कि अमरोहा में बीते दिनों से जहरखुरानी गिरोह सक्रिय है। यह गिरोह ई-रिक्शा चालकों को कही आने-जाने के लिए 100 या 50 रुपए में बुक कर लेते है। इस दौरान गिरोह के लोग ई-रिक्शा चालक को कोई नशीला पदार्थ मिली कोई खाने की वस्तु खिला देते है। जिसके बाद चालक बेहोश हो जाता है और बाद में ई-रिक्शा चालक को बेहोशी की हालत में सड़क किनारे या जंगलो में छोड़कर, ई-रिक्शा लेकर फरार हो जाते है। जहरखुरानी गिरोह द्वारा खिलाया गया यह नशीला पदार्थ व्यक्ति को 5 से 10 मिनट में ही बेहोश कर देता है और इसका नशा करीबन तीन दिन तक रहता है। हालांकि अभी तक ऐसी घटनाओं में किसी की मौत होने की खबर नही आई है।

खबरें और भी हैं...