अमरोहा से किसान गाजीपुर बॉर्डर के लिए हुए रवाना:भाकियू (असली) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बोले- एमएसपी बिल जब तक नहीं बनेगा, तब तक किसान घर नहीं लौटेगा

अमरोहा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अमरोहा में किसानों ने गाजीपुर बॉर्डर की तरफ किया कूच। - Dainik Bhaskar
अमरोहा में किसानों ने गाजीपुर बॉर्डर की तरफ किया कूच।

अमरोहा में भाकियू नेता व कार्यकर्ता गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हो गए हैं। किसान आंदोलन को शुक्रवार को एक साल पूरा हो गया है। किसानों का कहना है कि जब तक एमएसपी पर कानून नहीं बनेगा। तब तक किसानों की घर वापसी नहीं होगी।

भाकियू (असली) ने किया नेतृत्व

जिले से आज सैंकड़ों किसान गाजीपुर बॉर्डर पर आयोजित किसान महा पंचायत में शामिल होने के लिए रवाना हुए। गजरौला में दिल्ली हाइवे पर सैंकड़ों किसानों संग गाजीपुर बॉर्डर जा रहे किसानों का नेतृत्व भारतीय किसान यूनियन (असली) के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरपाल सिंह कर रहे थे। उन्होंने बताया कि आज किसान आंदोलन को पूरा एक साल हो गया। अब सरकार ने बिल लाना गलत स्वीकार किया है। इस बिल के खिलाफ लगातार किसानों का आंदोलन जारी रहा।

प्रधानमंत्री व उनके उद्योगपति दोस्त हारे हैं

आज किसान जीते है, प्रधानमंत्री व उनके उद्योगपति दोस्त हारे हैं। किसानों का आंदोलन अभी खत्म नहीं होगा। हमारी प्रथम मांग एमएसपी पर खरीद की गारंटी का कानून संसद में पारित हो। लखीमपुर खीरी हत्याकांड में आरोपित केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त किया जाए। किसान आंदोलन के चलते किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस किए जाएं। विद्युत अधिनियम 2020 वापस लिया जाए। साथ ही कहा कि 10 साल पुराने ट्रैक्टर चलन से बाहर न किए जाएं। इसके बाद सैंकड़ों किसान गाजीपुर बॉर्डर पर आयोजित किसान महापंचायत में शामिल होने के लिए रवाना हो गए।