अजीतमल के बेरी धनकर में नहीं होती सफाई:सफाई न होने से नालियां हुईं चोक, जगह-जगह लगा गंदगी का अंबार, ग्रामीणों में बीमारी फैलने की दहशत

अजीतमलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

औरैया जिले के अजीतमल विकासखंड क्षेत्र में गांवों में सफाई न होने से गंदगी फैली है। गंदगी के चलते ग्रामीणों में संक्रामक बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। ग्रामीणों ने कहा कि सफाईकर्मी के नियमित न आने से हर तरफ गंदगी का अंबार लगा है। गांव वालों ने डीपीआरओ से कार्रवाई की मांग की है।

अजीतमल तहसील मुख्यालय से पांच किलोमीटर की दूरी पर बसे गांव बेरी धनकर में नियुक्त सफाईकर्मी नियमित सफाई करने नहीं आ रहा है। इसके चलते गांव की नालियां गंदगी से बजबजा रही हैं। महीने भर में जब सफाईकर्मी गांव पहुंचता है। गिने चुने लोगों के दरवाजे सफाई करके चला जाता है।

नालियां में भरी गंदगी के कारण मच्छरों का प्रकोप बढ़ गया है। मच्छरों के डंक से लोग बीमार हो रहे हैं। गांव की नालियां गंदगी से भरी हैं। सड़क पर जगह-जगह जंगली घास खड़ी है। वहीं ग्रामीण मच्छरों के प्रकोप से दहशत में हैं।

ग्रामीण बोले- वेतन समय से लेते हैं, सफाई यदा-कदा करते हैं

बेरी धनकर गांव के ग्रामीणों ने बताया कि गांव में तैनात सफाईकर्मी प्रदीप कुमार गांव में यदा-कदा ही सफाई करने आता है। यदि वह नियमित सफाई करने आता तो गांव में जगह-जगह गंदगी के अंबार न लगे होता। सफाई कर्मी वेतन तो समय से लेते हैं। लेकिन सफाई करने कभी-कभी ही जाते है।

संतोष कुमार ने कहा कि जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं। नालियां भी गंदगी से बजबजा रही हैं। गंदगी के चलते मच्छर भी बढ़ रहे हैं। इसके चलते गांव बीमारी फैलने का खतरा बना हुआ है। आशीष कुमार ने कहा कि यदि गांव में प्रतिदिन सफाई होती रहे तो जगह-जगह गंदगी जमा न हो। सफाई कर्मी नियमित न आने से गंदगी बनी रहती है। जब कभी सफाई करने आ जाता है।

खबरें और भी हैं...