औरैया में लोकतंत्र सेनानी को दी श्रद्धांजलि:कानपुर इलाज के लिए ले जाते समय हुआ निधन, इटावा के रह चुके आरएसएस जिला प्रभारी

औरैया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

औरैया जिला मुख्यालय ककोर के पास लोकतंत्र सेनानी रामगोविन्द तिवारी का शाम कानपुर जाते समय निधन हो गया। बड़े बेटे प्रशांत ने बताया कि कल दोपहर में हाथ पांव कुछ सुन्न की शिकायत बताई।

राज्य सरकार से मिल रही थी पेंशन

औरैया अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टर ने ऑक्सीजन की कमी कहकर कानपुर रेफर कर दिया गया। बारा जोड़ टोल प्लाजा से अंतिम सांस ली। राम गोविन्द तिवारी अपनी 73 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली। इनके 2 बेटे व 7 बेटियां है। आरएसएस में शाखा इटावा जिला कार्यालय प्रभारी रहे थे। इन्हे राज्य सरकार द्वारा 20,000 रू पेंशन मिल रही थी। पूरा परिवार का रो रोकर बुरा हाल था। पूरा परिवार इस समय गमगीन है।

शव यात्रा के समय दी गई सलामी

शव यात्रा के समय सलामी दी गई और तिरंगा ओढ़ा कर सम्मानित किया गया। इस मौके पर अतिरिक्त मजिस्ट्रेट रमेश चंद यादव, क्षेत्राधिकारी सुरेंद्र नाथ, दिबियापुर थाना अध्यक्ष शशि भूषण मिश्रा, चौकी प्रभारी शेर सिंह, बंटी दीक्षित, मोहित सिंह प्रधान, सुमित पाल प्रधान तथा अन्य ग्रामीण मौजूद थे। उनके निधन पर पूर्व मंत्री लाखन सिंह सहित जिले के भाजपा के पदाधिकारियों व समाजसेवी संगठनों ने जाकर शोक व्यक्त किया।

लोकतंत्र सेनानी रामगोविन्द तिवारी का फाइल फोटो।
लोकतंत्र सेनानी रामगोविन्द तिवारी का फाइल फोटो।
खबरें और भी हैं...