मिल्कीपुर में आकाशीय बिजली गिरने से तीन बच्चे झुलसे:दो की मौके पर मौत, एक घायल; खेत पर गए थे तीनों बच्चे

मिल्कीपुर (अयोध्या), सुलतानपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अयोध्या जिले की सीमा स्थित पड़ोसी जनपद सुलतानपुर के गांव सोरांव में तेज आंधी पानी के बीच अचानक गिरी आकाशीय बिजली की चपेट में आकर दो बच्चों की मौत हो गई, जबकि नव वर्षीय एक बालक झुलस कर गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसकी हालत नाजुक देख 100 शैय्या संयुक्त चिकित्सालय कुमारगंज के डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया है। उधर दोनों बच्चों के शवों को कब्जे में लेकर कुमारगंज थाना क्षेत्र के एनडीए चौकी प्रभारी संतोष कुमार मौर्य ने विधिक कार्रवाई शुरू कर दी है।

शाम 4:30 बजे तेज आंधी पानी के बीच गिरी अचानक आकाशीय बिजली
प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिले की सीमा से सटे पड़ोसी जनपद सुलतानपुर के गांव सोरांव में मंगलवार को शाम करीब 4:30 बजे तेज आंधी पानी के बीच अचानक आकाशीय बिजली गिर गई। सोरांव गांव निवासी मस्तराम का 11 वर्षीय बेटा सत्रोहन और शिव बहादुर का 13 वर्षीय बेटा अमित और मंसाराम का 9 वर्षीय बेटा अहम गांव के पूरब स्थित बूढ़े बाबा स्थान के पास अपने पालतू मवेशी चरा रहे थे। आकाशीय बिजली की चपेट में तीनों बालक आ गए और 11 वर्षीय सत्रोहन और 13 वर्षीय अमित की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि 9 वर्षीय बालक अहम गंभीर रूप से घायल हो गया।

अस्पताल में मौजूद परिजन।
अस्पताल में मौजूद परिजन।

घायल बच्चा हायर सेंटर रेफर
घटनास्थल से थोड़ी दूर मौजूद ग्रामीण मौके पर पहुंचे और उन्होंने आकाशीय बिजली की चपेट में आकर घायल पड़े तीनों बच्चों को खेत से बाहर निकाल कर खड़ंजा मार्ग पर लिटाया और परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलते ही भारी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और ग्रामीणों ने आनन-फानन में तीनों बालकों को इलाज के लिए कुमारगंज स्थित 100 शैय्या संयुक्त चिकित्सालय पहुंचाया। अस्पताल के सीएमएस डॉ रजत चौरसिया ने दो बालकों सत्रोहन और अमित को मृत घोषित कर दिया। गंभीर रूप से घायल बालक अहम की हालत नाजुक देख उसे रेफर कर दिया।

मृत बालक अमित घर का था इकलौता
घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। ग्रामीणों का कहना है कि मृत बालक सत्रोहन अपने तीन भाइयों और एक बहन में सबसे बड़ा था। जबकि दूसरा मृत बालक अमित अपने पिता शिव बहादुर का इकलौता बेटा था तथा उसकी एक बहन भी है। घटना के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई ग्रामीणों में कोहराम मच गया है।